आगरा में बीते पांच साल में सबसे ठंडे नवंबर का आगाज, छाई रहेगी धुंध

Smart News Team, Last updated: 03/11/2020 05:26 PM IST
  • आगरा में भी सर्दी ने दस्तक दे दी है. जिले में ठंडी हवाएं चलने के साथ ही सुबह भी धुंध छाई रही. इसके साथ ही जिले में तापमान रात में सामान्य से करीब तीन डिग्री कम रहा. बता दें कि इससे पहले 2014 में यह स्थिति देखने को मिली थी.
उत्तर भारत में सर्दी के मौसम ने दी दस्तक

आगरा: उत्तर भारत में सर्दी के मौसम ने दस्तक दे दी है. अक्टूबर से ही ठंडी हवाएं चलना शुरू हो गई थीं तो वहीं नवबंर से तापमान और भी गिर गया है. बीते पांच साल में नवंबर की शुरुआत इस बार सबसे सर्द रही. आगरा में भी सर्दी ने दस्तक दे दी है. जिले में ठंडी हवाएं चलने के साथ ही सुबह भी धुंध छाई रही. इसके साथ ही जिले में तापमान रात में सामान्य से करीब तीन डिग्री कम रहा. बता दें कि इससे पहले 2014 में यह स्थिति देखने को मिली थी.

आगरा में न कवेल रात में बल्कि, दिन में भी तापमान तीन डिग्री कम हो गया है. बीते सालों के मुकाबले इस बार नवंबर की शुरुआत ज्यादा ठंडी रही है. आगरा में नेशनल हाइवे और यमुना किनारा रोड पर धुंध छाई रही. जिले में ठंड के कारण सुबह 10 बजे तक धुंध रही, लेकिन धूप के तेज होने के बाद दिन में दृश्यता में इजाफा हो गया. बीते दिन, जहां आगरा में सोमवार को अधिकतम तापमान 30.3 डिग्री रहा तो वहीं न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस था, जो कि सामान्य से तीन डिग्री कम है.

3 नवंबर: लखनऊ कानपुर आगरा वाराणसी मेरठ में आज वायु प्रदूषण एक्यूआई लेवल

मौसम विभाग ने बताया है कि आगरा में अगले तीन दिनों तक सुबह धुंध छाई रहेगी और दिन में भी दृश्यता कम रह सकती है. वहीं, सुबह और शाम को स्मॉग के छाए रहने की आशंका है. इसके साथ ही जिले में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भी कमी के आसार हैं. धुंध छाए रहने के कारण ताजमहल सहित कई स्मारकों पर सैलानियों की कम संख्या ही देखने को मिली. हालांकि, 12 बजे के बाद इन स्मारकों पर पर्यटकों की संख्या में वृद्धि देखने को मिली.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें