कोरोना काल की बकरीद: आगरा में ऑनलाइन सजा बकरा बाजार, 'सलमान' की ज्यादा डिमांड

Smart News Team, Last updated: Thu, 16th Jul 2020, 9:44 PM IST
  • बकरीद पर कुर्बानी के लिए आगरा में बकरों का ऑनलाइन बाजार सजा है। इनमें सलमान और सुल्तान खरीदारों की डिमांड में हैं।
बकरीद के लिए बकरों की ऑनलाइन खरीदारी

आगरा. कोरोना काल में बकरीद से पहले बकरों की बिक्री नहीं हो पा रही थी। बाहर जाने में कई तरह की पाबंदियां थी। इसी को देखते हुए लोगों ने व्हाट्सएप, टेलिग्राम पर बकरों की खरीद-फरोख्त शुरू कर दी है। बकरे खरीदने के लिए लोग ऑनलाइन बोली लगा रहे हैं। ऑनलाइन बाजार में ताजनगरी के ‘सलमान’ और ‘सुल्तान’ की मांग जोरों पर जिसे देखते हुए इनकी कीमत भी ज्यादा है।

ताजगंज निवासी एहसान अपने चार बकरे सलमान, सुल्तान, आमिर और भुल्लड़ को बेच रहे हैं। इनके सलमान और सुल्तान तो खरीदारों की ट्रेंडिंग लिस्ट में हैं। हालांकि, अभी सबसे महंगी बोली लगने का इंतजार है। हालांकि, सिर्फ एहसान के पास ही नहीं, टेलीग्राम एप पर बकरे की मार्केट में ज्यादातर बकरों के नाम सलमान और सुल्तान हैं। जिनकी कीमत 15 से 25 हजार रुपए तक है।

ताजनगरी में ये कैसी सुनवाई? सौतेले पिता ने किया रेप, 3 बार गई थाने तो भगा दी गई

कोरोना लॉकडाउन के अनलॉक फेज को देखते हुए इस बार शहर में मंडी पुलिया, मंटोला, नाई की मंडी में लगने वाला बकरों का बाजार नहीं लगेगा। जबकि पहले लोग बकरीद के एक महीने पहले ही बकरों की खरीदारी में जुट जाते थे।

कोख के सौदागर का मास्टरमाइंड बेनकाब, नीलम-अस्मिता नहीं, यह है गैंग का असली सरगना

सोशल मीडिया पर हो सकता है धोखा

आगरा में सूफी बुंदन मियां बकरों की ऑनलाइन बिक्री को ठीक नहीं ठहराते। उनका कहना है कि फोटो या वीडियो में बकरे की सेहत का अंदाजा नहीं हो सकता है। जिस वजह से लोगों के साथ धोखाधड़ी भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि कुर्बानी के लिए बकरे की सेहत का ठीक होना बेहद जरूरी है वरना कुर्बानी को जाया माना जाता है। ऐसे में ऑनलाइन बकरे की खरीदारी में खतरा है।

आगरा के ज्योतिषाचार्य का दावा- कांग्रेस पर राहु के गोचर से पार्टी की दुर्दशा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें