आगरा

जब आगरा की सड़क पर देखते ही देखते आग का गोला बन गया स्कूटर, VIDEO में जानें वजह

Smart News Team, Last updated: 05/06/2020 08:38 PM IST
  • संजय प्लेस में सैनिटाइजर की वजह से शुक्रवार को एक स्कूटर अचानक देखते ही देखते आग का गोला बन गया। गनीमत यह रही कि हादसे के समय स्कूटी सवार कारोबारी एटीएम से पैसे निकाल रहा था। जिस वक्त यह घटना हुई, स्कूटर सड़क पर खड़ा था और कारोबारी एटीएम में था।
डिग्गी में रखी थी सैनिटाइजर की बोतल, स्कूटर बना आग का गोला

आगरा, विशाल शर्मा

 कोरोना काल में कोविड-19 से बचाव के लिए सैनिटाइजर न सिर्फ हम सबकी जरूरत बन गई है, बल्कि सरकार ने इसे अनिवार्य वस्तु की श्रेणी में भी डाल दिया है। कोरोना से बचने के लिए लोग हर वक्त सैनिटाइजर का इस्तेमाल कर रहे हैं, मगर यही सैनिटाइजर आगरा में आग का गोला बन जाएगा, यह कहां किसी को पता था। दरअसल, संजय प्लेस में सैनिटाइजर की वजह से शुक्रवार को एक स्कूटर अचानक देखते ही देखते आग का गोला बन गया। गनीमत यह रही कि हादसे के समय स्कूटी सवार कारोबारी एटीएम से पैसे निकाल रहा था। जिस वक्त यह घटना हुई, स्कूटर सड़क पर खड़ा था और कारोबारी एटीएम में था। आग की लपटें इतनी भयंकर थीं कि कुछ ही देर में स्कूटर जलकर पूरी तरह खाक हो गया। आलम यह रहा कि जिसने भी स्कूटर को जलते देखा और इसकी वजहें जानीं, उसके रोंगटे खड़े हो गए।

दरअसल, यह घटना शुक्रवार दोपहर करीब पौने बारह बजे की है। बोदला निवासी पियूष की शाह मार्केट में मोबाइल शॉप है। वह एक रिश्तेदार के स्कूटर से शाह मार्केट एटीएम से कैश निकालने आए थे। इसलिए संजय प्लेस में यस बैंक के सामने अपने स्कूटर को सड़क किनारे खड़ा किया। इसके बाद वह खुद एटीएम में पैसे निकालने चले गए। कुछ ही पल में स्कूटर आग का गोला बन गया। आग की बड़ी लपटें देखकर सड़क पर अफरा-तफरी मच गई। सड़क पर लोगों की भीड़ जुट गई, ट्रैफिक रुक गया।

पियूष दौड़कर एटीएम केबिन से बाहर आए। स्कूटर को जलता देख शोर मचाया। आस-पास के लोगों ने पानी डाला मगर आग नहीं बुझी। इसके बाद किसी ने पुलिस को सूचना दी और फिर पुलिस भी आ गई। पियूष ने पुलिस को बताया कि स्कूटर रिश्तेदार का था। डिग्गी में एक-एक लीटर वाली सैनिटाइजर की दो बोतलें रखी थीं।

इस घटना पर एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि हादसे के संबंध में उन्होंने इंजीनियर से बात की है। इंजीनियर ने उन्हें बताया कि स्कूटर की डिग्गी सीट के नीचे होती है। उसी के नीचे स्कूटर का इंजन होता है। स्कूटर जब चलता है तो इंजन गर्म हो जाता है। डिग्गी में भी हीट पहुंचती है। संभवत: सैनिटाइजर बोतल से लीक हुआ होगा या हीट से प्लास्टिक की बोतल पिघल गई।

बता दें कि वर्तमान में जो सैनेटाइजर आ रहे हैं वे अल्कोहल बेस हैं। इनमें आईसो-प्रोपिल अल्कोहल मिला होता है। जिसकी मात्रा 70 प्रतिशत से अधिक है। कोरोना में यही कारगर है और यह काफी ज्वलनशील होता है। इसलिए बेहतर होगा कि स्कूटर की डिग्गी में इसे अधिक मात्रा में नहीं रखें।

अन्य खबरें