आगरा में सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष, बेटे पर बहू ने कराया धोखाधड़ी का केस

Smart News Team, Last updated: 03/06/2020 02:58 PM IST
  • आगरा में सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष राजेंद्र शर्मा और उनके बेटे के खिलाफ थाना हरीपर्वत में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया गया है।
police interrogation room (File Photo)

आगरा में सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष राजेंद्र शर्मा और उनके बेटे के खिलाफ थाना हरीपर्वत में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया गया है। यह मुकदमा पूर्व सपा नेता के बेटे की बहू ने दर्ज कराया है। आरोप है कि उसके खाते फर्जी हस्ताक्षर करके 11 लाख रुपये निकाले। इसके बाद महिला के खाते से राजेंद्र शर्मा ने 7.75 लाख का टैक्स जमा कर दिया। महिला ने जब अपने पैसे वापस मांगे तो उसके साथ मारपीट की गई। महिला फिलहाल अपनी दो बेटियों के साथ दिल्ली में रह रही है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

सनव्यू अपार्टमेंट, सेक्टर चार, द्वारिका, नई दिल्ली निवासी प्रिया शर्मा का आरोप है कि उसकी कई वर्ष पूर्व लाजपत कुंज, थाना हरीपर्वत निवासी मनुज शर्मा पुत्र राजेंद्र शर्मा के साथ शादी हुई थी। राजेंद्र शर्मा सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष हैं। प्रिया का आरोप है कि उन्होंने मौसूमा हैरिटेज टावर, देवीराम हलवाई के पास एक दुकान खरीदी थी। दुकान का बैनामा उनके नाम था। अक्तूबर 2017 को उसके ससुरालीजन ससुर राजेंद्र शर्मा, पति मनुज शर्मा, ड्राइवर ओमप्रकाश समेत विकाश शर्मा ने डरा धमका कर उस दुकान का बैनामा किसी और के नाम करा दिया। बैनामे के 22.50 लाख रुपये तीन प्रकर से (चेक, ड्राफ्ट और एक लाख रुपये नगद) प्रिया के कैनरा बैंक साकेत कॉलोनी शाखा में जमा कराए गए थे।

प्रिया का आरोप है कि उसके ससुर ने फर्जी तरीके से हस्ताक्षर तैयार कर उसके खाते से पहले 11 लाख रुपये निकाले। इसके बाद राजेंद्र शर्मा ने अपने पैन कार्ड से प्रिया के खाते से 7.75 लाख रुपये का टैक्स जमा कर दिया। मुकदमे के अनुसार प्रिया ने जब इस 18.75 लाख रुपये को वापस मांगा तो उसके साथ मारपीट की गई। मानसिक और शारीरिक शोषण किया गया। रोजाना की प्रताड़ना से परेशान होकर प्रिया अपनी दोनों बोटियों के साथ दिल्ली में रह रही है। वहीं तहरीर के आधार पर थाना हरीपर्वत पुलिस ने राजेंद्र शर्मा, उनके बेटे मनुज शर्मा, ड्राइवर ओमप्रकाश और विकास शर्मा के खिलाफ जान से मारकी धमकी, कूट रचित दस्तावेज तैयार कराने और धोखाधड़ी समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें