Diwali 2021: मां लक्ष्मी को सबसे ज्यादा पसंद है कमल का फूल, दिवाली पर गणेश-लक्ष्मी पूजन में जरूर करें शामिल

Pallawi Kumari, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 1:53 PM IST
  • मां लक्ष्मी को कमल का फूल बेहद प्रिय होता है. माता कमल के फूल पर विराजमान होती है, इसलिए उन्हें कमलासना भी कहा जाता है. इस बार दिवाली 2021 गुरुवार 4 नवंबर को है. ऐसे में कल लक्ष्मी पूजा में कमल का फूल माता को जरूर चढ़ाएं.
लक्ष्मी मां को प्रिय है कमल का फूल, दिवाली पूजा में जरूर चढाएं. 

Diwali 2021: प्रकाश उत्सव दीपावली का त्योहार 4 नवंबर 2021 को देशभर में मनाया जाएगा. इस दिन माता लक्ष्मी,गणेश और भगवान कुबेर की पूजा की जाती है. दीवाली को लक्ष्मी पूजा भी कहा जाता है और हर कोई इस दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न कर उनका आशीर्वाद पाना चाहता है. माता लक्ष्मी के आशीर्वाद से घर धन धान्य से भर जाता है और व्यक्ति को कभी भी धन की कमी नहीं होती. लक्ष्मी मां का वाहन उल्लू है और वह कमल के फूल पर विराजमान होती है इसलिए माता लक्ष्मी को कमलासना भी कहा जाता है. आइये जानते हैं कि दिवाली 2021 में कैसे मां लक्ष्मी को प्रसन्न करें. 

माता लक्ष्मी को कमल का फूल प्रिय होता है. इसलिए कल लक्ष्मी पूजा के दौरान आप ये फूल अवश्य चढ़ाएं. मां को कमल के फूल प्रिय होने के साथ ही इसके कई महत्व भी हैं. कमल के फूल से अगर आप दीपावली की रात मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं तो आपको एक नहीं बल्कि पांच फायदे होंगे. आइये जानते हैं कमल के फूल से मां लक्ष्मी की पूजा करने के फायदे.

Diwali 2021: आमदनी अठन्‍नी और खर्चा रुपइया से हैं परेशान, तो दिवाली के दिन इस अचूक टोटके से होगा धनलाभ

1. कमल के फूल से नकारात्मक शक्त‌ियां दूर होती है. इसे देवी लक्ष्मी को अर्प‌ित करने से घर में बुरी शक्त‌ियों का प्रवेश नहीं होता है.

2. कमल के फूल चढ़ाने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है और व्यक्ति पापों को उसके पापों से मुक्ति मिलती है.

3. कमल फूल से सिर्फ दिवाली नहीं बल्कि रोज देवी लक्ष्मी पूजा करने वाले व्यक्ति को कभी भी धन धान्य की कमी नहीं होती.

4. माता लक्ष्मी कमल पर विराजमान होती है. इसलिए कहा जाता है कि जिस घर में कमल के फूल से माता की पूजा होती है वहां मां लक्ष्मी का वास होता है.

5. कमल का फूल कीचड़ में खिलता है. लेकिन आश्चर्य वाली बात यह है कि इसके बावजूद फूल में कीचड़ नहीं होता. कहा जाता है कि देवी लक्ष्मी को कमल चढ़ाने वाले भक्त संसार में कीचड़ के समान फैली बुराईयों के बीच निर्मल बुद्धि का बना रहता है.

Diwali 2021: दीपावली से पहले क्यों मनाई जाती है छोटी दिवाली, जानें इसकी पौराणिक कथा

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें