Diwali 2021: दिवाली के मौके पर कम समय और आसानी से बनाएं ये रंगोली डिजाइन, घर दिखेगा खूबसूरत

Pallawi Kumari, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 1:44 PM IST
  • 3 नवंबर को छोटी दिवाली (Choti Diwali)नरक चतुर्दशी (Naraka Chaturdashi),रूप चौदस (Roop Chaudas) या यम दिवाली (Yam Diwali) का त्योहार है. वहीं कल यानी 4 नवंबर 2021 को दिवाली मनाई जाएगी. इस मौके पर घर के मुख्य द्वार पर रंगोली बनाना शुभ माना जाता है, मान्यता है कि रंगोली से घर पर माता लक्ष्मी का आगमन होता है.
दिवाली के लिए आसान और खूबसूरत रंगोली डिजाइन.

दिवाली को दीप और प्रकाश का उत्सव कहा जाता है. लेकिन दीपावली या दिवाली पर रंगोली बनाने की परंपरा काफी पुरानी हैं. लोग खास और शुभ मौके पर रंगोली बनाते हैं. कहा जाता है कि रंगोली बनाने के घर पर हर काम मंलगमय तरीके से होता है. दिवाली के मौके पर भी मां लक्ष्मी के आगमन के लिए घर के मुख्य द्वार या आंगन में रंगोली बनाई जाती है. रंगोली बनाने से एक तो घर की खूबसूरत बढ़ती और कहा जाता है कि रंगोली से घर में लक्ष्मी का आगमन और वास होता है. आइये बताते हैं कि दिवाली 2021 में ऐसा क्या करें जिससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी. 

कल यानी 4 नवंबर को देशभर में दिवाली का त्योहार मनाया जाएगा. दिवाली में अब कम ही समय बचा हुआ है और लोग इसकी तैयारियों में लग गए हैं. वहीं दिवाली की साफ सफाई, पूजा, सजावट और उपहार से जुड़ी तमात तैयारियों के बाद कम ही समय बच पाता है. इसलिए यहां हम आपको दिखा रहे हैं कुछ ऐसे रंगोली डिजाइन जो दिखने में बेहद खूबसूरत भी हैंं और इन्हें आसानी से कम कमय में भी बनाया जा सकता है.

Diwali 2021: दिवाली के दिन खाई जाती है सूरन की सब्जी, जानें क्या है परंपरा ?

इस बार दिवाली पर रंगोल बनाने के पहले यहां जरूर देखें ये आसानी से बन जाने वाले रंगोली के कई डिजाइन्स. आप यहां से कोई भी एक डिजाइन दिवाली के मौके पर बनाने के लिए चुन सकती है. आजकल रंगोली बनाने के लिए नोकदार प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल किया जाता है. इससे रंगोली बनाना और भी आसान हो जाता है. इससे रंगोली बहुत ही खूबसूरत बनती है और समय भी कम लगता है.

आसान और खूबसूरत डिजाइन
घर के मुख्य द्वार के लिए खूबसूरत डिजाएन
रंगोली सिंपल डिजाइन
दिवाली के लिए रंगोली की खूबसूरत डिजाइन
दीप डिजाइन में रंगोली

Diwali 2021: दिवाली पर ये 5 चीजें भूलकर भी न करें गिफ्ट, होगा भारी नुकसान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें