आगरा में एक दूसरे के खिलाफ डाक्टरों ने दर्ज कराया जानलेवा हमले का मुकदमा

Smart News Team, Last updated: Tue, 29th Sep 2020, 6:24 PM IST
  • सेंटर के सामने ही डॉक्टर सुरेंद्र भगौर का यशवंत हॉस्पिटल है. डॉक्टर धाकरे ने बताया वह रात में सेंटर की ओर से निकल रहे थे. दोनों में रविवार की देर रात विवाद हो गया था. जिसके बाद एक दूसरे पर फायरिंग का आरोप लगाया था.
प्रतीकात्मक तस्वीर

आगरा। आपसी विवाद के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन. आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर सुधीर धाकरे और हॉस्पिटल संचालक डॉक्टर सुरेंद्र सिंह भगौर ने एक दूसरे के खिलाफ जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज कराया है. दोनों में रविवार की देर रात विवाद हो गया था. जिसके बाद एक दूसरे पर फायरिंग का आरोप लगाया था.

आपको बता दें कि हीरा बाग कॉलोनी निवासी डॉक्टर सुधीर सिंह धाकरे के छोटे भाई डॉक्टर सचिन धाकरे का न्यू आगरा कालोनी में डायग्नोस्टिक सेंटर है. सेंटर के सामने ही डॉक्टर सुरेंद्र भगौर का यशवंत हॉस्पिटल है. डाक्टर धाकरे ने बताया वह रात में सेंटर की ओर से निकल रहे थे. उसके सामने सड़क पर खड़ी गाड़ी से यातायात प्रभावित हो रहा था.उन्होंने गाड़ी हटाने की कहा तो यशवंत हॉस्पिटल का स्टाफ विवाद करने लगा. इस पर वह घर चले आए. आधी रात को हॉस्पिटल संचालक सुरेंद्र भगौर ने उनके घर पर लोगों के साथ हमला बोल दिया, घर में तोड़फोड़ की. उन्हें और पत्नी को पीटा गया तथा फायरिंग भी की गई.

रात में हुई मारपीट का बदला, बड़े भाई ने छोटे की पत्थर से कुचलकर कर दी हत्या

वहीं हॉस्पिटल संचालक सुरेंद्र भागौर ने पुलिस को बताय स्टाफ ने उन्हें डॉक्टर सुधीर सिंह धाकरे द्वारा अभद्रता की जानकारी दी. उन्होंने डॉक्टर धाकरे को फोन किया तो वह उनसे भी अभद्रता करने लगे. आधी रात को घर लौटते में हीरा बाग कालोनी मोड़ पर डॉक्टर धाकरे मिल गए. उन्होंने और उनकी पत्‍‌नी ने उनसे मारपीट की. डॉक्टर धाकरे ने गोली चलाई. एएसपी सौरभ दीक्षित ने बताया मारपीट के सीसीटीवी फुटेज पुलिस को मिले हैं. दोनों डॉक्टरों ने एक दूसरे के खिलाफ जानलेवा हमले के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया है गोली किसने चलाई इसकी जाँच की जा रही है.

इस दौरान आईएमए अध्यक्ष डॉक्टर रवि पचौरी समेत अन्य पदाधिकारी सोमवार को एसएसपी बबलू कुमार से मिले. पदाधिकारियों ने एसएसपी से कहा कि डॉक्टर धाकरे पर हॉस्पिटल संचालक ने जानलेवा हमले का फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है. आईएमए ने हास्पिटल संचालक की डिग्री पर सवाल उठाए हैं. आईएमए अध्यक्ष रवि पचौरी ने बताया कि डिग्री की जाँच कराने के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मुख्यालय को पत्र लिखा है।

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें