आगरा में महिला दारोगा ने दिया 3 साल की बच्ची को खून, निभाया इंसानियत का फर्ज

Smart News Team, Last updated: 06/12/2020 07:30 PM IST
  • आगरा में तीन साल की बच्ची की जान बचाने के लिए पिता ने थाने आकर महिला दरोगा से रक्त देने के लिए गुहार लगाई, ऐसे में महिला दरोगा ने रक्त देकर मासूम बच्ची की जान बचाई.
आगरा में महिला दरोगा ने रक्त देकर मासूम बच्ची की जान बचाई

आगरा: आगरा में खाखी वर्दी ने एक बार फिर से इंसानियत की मिसाल कायम की है. दरअसल, तीन साल की बच्ची की जान बचाने के लिए पिता ने थाने आकर महिला दरोगा से रक्त देने के लिए गुहार लगाई, ऐसे में महिला दरोगा ने रक्त देकर मासूम बच्ची की जान बचाई. महिला दरोगा का नाम डेजी पंवार है, उन्होंने रक्त देने के बाद बच्ची के जल्दी स्वस्थ होने की कामना भी की.

महिला दरोगा डेजी पंवार ने रक्त दान करने के बाद अपने कार्यालय आकर अपनी ड्यूटी भी पूरी की. बताया जा रहा है कि सिकंदरा क्षेत्र में रहने वाली तीन साल की बच्ची की तबोयत 20 दिन से खराब चल रही है और इलाज के लिए उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. बच्ची के बारे में बात करते हुए थाना हरीपर्वत प्रभारी निरीक्षक अजय कौशल ने बताया कि बच्ची सिबी को रक्त कम होने की समस्या हो गई थी.

योगी के मंत्रिमण्डल में होगा विस्तार, 6 से 7 नए होंगे शामिल कुछ की होगी विदाई

परिजनों ने बताया कि बच्ची आईसीयू में भर्ती है और उसका रक्त ग्रुप ए निगेटिव है. ग्रुप ए निगेटिव ने के कारण रक्त मिलने में भी परेशानी आ रही थी. ऐसे में रविवार सुबह पिता भाय सिंह ने थाने आकर रक्त दिलाने के लिए गुहार लगाई. तभी पता चला कि थाने में कार्यरत महिला दरोगा डेजी पंवार का ब्लड ग्रुप ए निगेटिव है. ऐसे में इस बारे पता चलने पर वह रक्तदान के लिए तैयार हो गईं. उन्होंने अस्पताल में जाकर रक्तदान किया और बच्ची के स्वास्थ्य की भी जानकारी ली.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें