आगरा में सीरो सर्वे शुरू, कोरोना एंटीबॉडी टेस्ट 45 लोकेशन तय, 10 टीम करेंगी जांच

Smart News Team, Last updated: 04/09/2020 07:34 PM IST
  • आगरा में शुक्रवार से सीरो सर्वे शुरू हो गया है. कोरोना एंटीबॉडी टेस्ट के लिए कुल 1080 लोगों के रक्त नमूने लेकर जांच होगी. इस टेस्ट में रिकॉर्ड किया जाएगा कि कितने लोग कोरोना संक्रमित होने के बाद बिना दवा के ठीक हो गए.
आगरा में शुक्रवार से सीरो सर्वे टेस्ट शुरू.

आगरा. ताजनगरी में कोरोना वायरस की एंटीबाॅडी की जानकारी के लिए सीरो सर्वे शुक्रवार से शुरू हो गया है. सर्वे के लिए तय किए गए 45 क्षेत्रों के लिए 10 टीमें बनी है. सर्वे में सैंपल कंटेनमेंट जोन, बपफर जोन, बाजार और सरकारी और काॅलोनियों के स्वस्थ लोगों के सैंपल लिए जाएंगे. 

इस सर्वे में बड़े स्तर पर एंटीबाॅडीज मिलती है तो कम्युनिटी ट्रांसमिशन माना जाता है. कम्युनिटी ट्रांसमिशन तब होता है जब कोई व्यक्ति किसी ज्ञात संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए बिना या वायरस से संक्रमित देश की यात्रा किए बिना ही इसका शिकार हो जाता है.

स्वास्थ्य विभाग ने खून के नमूने लेने के लिए विशेषज्ञ, डाॅक्टरों और टेक्नीशियन को टीम में शामिल किया गया है, इनको शारीरिक दूरी का पालन करते हुए और मास्क और सेनेटाइजेशन जैसे अन्य नियमों को ध्यान में रखकर 1080 नमूने लेने हैं. मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ आरसी पांडेय ने बताया कि यह सर्वे तीन दिन तक चलेगा. 

आगरा: बाइक सवार मां-बेटे की सांड़ से टक्कर, मां की मौके पर मौत,बेटा घायल

सीरो सर्वे क्यों होता है

सर्वे में स्वस्थ लोगों के रक्त के नमूने लेकर जांच होती है। इससे पता लगता है कि कितने लोग कोरोना संक्रमित होने के बाद बिना दवा के ठीक हो गए और उन्हें पता भी नहीं चला. इससे यह भी अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोरोना से कितने फीसदी लोग संक्रमित हो चुके हैं. 

आगरा: कमला नगर व्यापारी से लूट और हत्याकांड का खुलासा, चार गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 2 लाख 53 हजार 175 हो चुकी है. संक्रमितों में से 1 लाख 90 हजार 818 लोग ठीक हो चुके हैं. शुक्रवार को राज्य में 6200 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें