ताजमहल में नेटवर्क न मिलने से टिकट बुकिंग में हुई परेशानी, फ्री वाई-फाई की मांग

Smart News Team, Last updated: 14/10/2020 01:23 PM IST
  • ताजमहल आने वाले लोगों को यहां नेटवर्क ना मिलने के कारण पर्यटकों को टिकटों की बुकिंग करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इन परेशानियों को देखते हुए टूर ऑपरेटरों ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से ताजमहल और आगरा किले में भी वाईफाई की सुविधा देने की मांग की है.
ताजमहल में नेटवर्क न मिलने से टिकट बुकिंग में हुई परेशानी, टूर ऑपरेटरों ने की फ्री वाई-फाई की मांग

आगरा: कोरोना वायरस के बीच पर्यटकों के लिए ताजमहल को खोल दिया गया है, जिससे लोग वहां घूम सकें. लेकिन इसी बीच ताजमहल में आने-जाने वाले पर्यटकों के लिए परेशानी खड़ी हो गई है. यह परेशानी वहां न मिलने वाले नेटवर्क की है. दरअसल, ताजमहल और आगरा किला में मोबाइल नेटवर्क न मिलने के कारण पर्यटकों को टिकटों की बुकिंग करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इन परेशानियों को देखते हुए टूर ऑपरेटरों ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से ताजमहल और आगरा किले में भी वाईफाई की सुविधा देने की मांग की है.

ताजमहल और आगरा के किले में भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) समेत दो अन्य मोबाइल नेटवर्क कंपनियों के नेटवर्क ताजमहल और आगरा किला पर नहीं मिल पा रहे. ऐसे में वहां आने वाले पर्यटकों को टिकट स्कैन करने और ऑनलाइन टिकट लेने में परेशानी हो रही है, जिसे देखते हुए टूर ऑपरेटरों ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से मांग की है कि रेलवे स्टेशन की तरह ही ताजमहल और आगरा के किले में भी आधा घंटा फ्री वाईफाई सेवा दी जानी चाहिए जिससे पर्यटक टिकट बुक कर पाएं.

घर पर नौकरी बताकर जेब काटने निकलते थे तीनों शातिर, रोज का टारगेट- 5 हजार रुपये

बता दें कि देश और दुनिया के पर्यटक यहां ताजमहल की खूबसूरती को निहारने के लिए पहुंचते हैं. फ्री वाईफाई से पर्यटक यहां आकर ऑनलाइन बुकिंग आसानी से कर सकेंगे और उन्हें निराश नहीं होना पड़ेगा. इससे इतर आगरा में कोरोना वायरस केस की मांग करें तो शहर में करीब 

50 नए मरीज कोरोना से संक्रमित मिले हैं. आगरा में अब तक कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 6459 पर पहुंच गयी है, जिसमें से 5774 मरीज ठीक हो गए हैं. वहीं, 562 मरीजों का इलाज जारी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें