भोपाल में आदिवासियों के साथ झूमे CM शिवराज, ढोलक से लेकर तुरही तक बजाई

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Mon, 15th Nov 2021, 11:48 AM IST
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को जनजातीय संग्रहालय लोकार्पण का लोकार्पण किया. साथ ही लोकार्पण कार्यक्रम के बाद सीएम शिवराज ने आदिवासियों के साथ समय बिताया. जहां पर अधिवासियों ने मुख्यमंत्री शिवराज का स्वागत के दौरान नृत्य किया. जिनके साथ सीएम शिवराज ने भी कदम से कदम मिलाकर झूमते नजर आए.
भोपाल में आदिवासियों के साथ झूमे CM शिवराज, ढोलक से लेकर तुरही तक बजाई

भोपाल. मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनजातीय गौरव दिवस पर भोपाल के के जनजातीय संग्रहालय में 'जनजातीय रणबांकुरे' की फोटो गैलेरी का लोकार्पण किया. फोटो गैलेरी का लोकार्पण करने के बाद सीएम शिवराज चौहान आदिवासियों के साथ समय भी बिताया. जहां पर भारिया जनजाति के लोगों ने हमरो द्वार में अतिथि आयो रे.. गीत गाकर उनका स्वागत किया.

भोपाल में अधिवासियों ने सीएम शिवराज का स्वागत किया. जिसके बाद आदिवासियों ने नृत्य प्रस्तुति दी. इस नृत्य प्रस्तुति के दौरान सीएम शिवराज भी उनके साथ झूमने लगे. इतना ही नहीं सीएम शिवराज ने उनेक साथ कदम से कदम मिलाकर डांस भी किया. साथ ही सीएम शिवराज ने ढोलकी से लेकर तुरही तक बजाई.

PM मोदी के भोपाल दौरे को लेकर ट्रैफिक रूट में हुए कई बदलाव, देखें कौन से रास्ते रहेंगे बंद

सीएम शिवराज ने इस दौरान कहा कि अद्भुत है हमारी जनजातीय संस्कृति, कला, गीत-संगीत, वेशभूषा और परंपराएं, जिसमें आनंद, उल्लास और उत्साह की त्रिवेणी का संगम है. आज जनजातीय भाई-बहनों से मिलकर सुखद अनुभूति की प्राप्ति हुई. साथ ही कहा कि मेरे जनजातीय भाई-बहनों के बीच अद्भुत आनंद के पल गीत-संगीत, नृत्य के साथ बिताए। उनका जीवन बेहद सरल, सहज और प्रकृति के करीब है.

सीएम शिवराज ने इसके साथ ही कहा कि महान योद्धा राजा संग्राम शाह जी के नाम पर प्रतिवर्ष उस कलाकार को 5 लाख का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा, जिसका जनजातीय कला, गीत-संगीत के क्षेत्र में सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन और उल्लेखनीय योगदान होगा.

अन्य खबरें