अंतरराष्ट्रीय जगत में बढ़ी भारत की प्रतिष्ठा, आतंकवाद से लड़ने में भी देश सक्षम- राजनाथ सिंह

Swati Gautam, Last updated: Sun, 14th Nov 2021, 4:59 PM IST
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद के रजत जयंती समारोह में कहा कि वर्ष 2014 के बाद अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है. भारत की गिनती कद्दावर देशों में होती है. अगर भारत को कोई भी छेड़ेगा तो भारत उसे छोड़ेगा नहीं, भले ही वह देश कितना भी कितना भी ताकतवर क्यों न हो.
अंतरराष्ट्रीय जगत में बढ़ी भारत की प्रतिष्ठा, आतंकवाद से लड़ने में भी देश सक्षम- राजनाथ सिंह

लखनऊ. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद के रजत जयंती समारोह में शामिल हुए. इस दौरान मंत्री राजनाथ सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दुश्मन देशों पर करारा हमला बोला है. केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा कि भारत की गिनती कद्दावर देशों में होती है. अगर कोई भी भारत के खिलाफ साजिश करता है तो भारत उसे नहीं बख्शेगा. उन्होंने कहा कि भारत को कोई छेड़ेगा तो भारत उसे छोड़ेगा नहीं, भले ही वह देश कितना भी कितना भी ताकतवर क्यों न हो. उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के बाद अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ में आयोजित रजत जयंती समारोह में भारत के खिलाफ साजिश रचने वालों को भी बड़ी चेतावनी दे डाली. उन्होंने चीन का नाम लिए बगैर कहा कि एक और पड़ोसी देश है जो दुनिया में मनमानी करता है कई देश चुप्पी साध लेते हैं. अब हालात बदल रहे हैं लेकिन दुर्भाग्य से कुछ राजनीतिक दल सेना के शौर्य का मजाक उड़ा रहे हैं. राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि सीमा पर सेना के जवान लड़ते हैं कोई राजनीतिक दल नहीं. चाहे जो भी परिस्थिति हो सेना का हाथ नहीं बनेंगे.

अमित शाह ने दो दिवसीय दौरे में कार्यकर्ताओं को दिया यूपी चुनाव में जीत का मंत्र, कही ये बातें

बता दें कि लखनऊ में इस समारोह के दौरान कानून मंत्री बृजेश पाठक भी मौजूद थे. समारोह में केंद्रीय रक्षा मंत्री ने दुश्मन देशों पर जमकर हमला किया. राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत की तुलना पाकिस्तान से नहीं की जा सकती. पाकिस्तान को अब आतंकवाद का साथ छोड़ना पड़ेगा. हमने सर्जिकल स्ट्राइक व एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया. किसी ने इसकी उम्मीद नहीं की थी. उन्होंने आगे कहा कि हमने उनकी धरती पर जाकर आतंकवादियों का सफाया किया. इसने लोगों की सोच बदल दी है. उन्होंने आगे कहा कि भारत दुनिया को यह संदेश देने में कामयाब रहा है की दुनिया का कोई भी देश यदि भारत को छेड़ेगा तो भारत उसे छोड़ेगा नहीं.

अन्य खबरें