MP के इस शहर में बिना कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट नहीं मिलेगा डीजल पेट्रोल, DM ने जारी किए ये निर्देश

Shubham Bajpai, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 6:44 PM IST
  • एमपी के ग्वालियर में अब बिना कोरोना वैक्सीन के सर्टिफिकेट के किसी को पेट्रोल और डीजल नहीं मिलेगा. कोरोना वैक्सीन की रफ्तार बढ़ाने के लिए ग्वालियर कलेक्टर ने आदेश जारी करते हुए बिना सर्टिफिकेट पेट्रोल डीजल देने से मना कर दिया है. अब स्वास्थ्य विभाग पंप पर लोगों के सर्टिफिकेट चेक कर रहा है.
MP के इस शहर में बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट नहीं मिलेगा डीजल पेट्रोल, DM ने जारी किए ये निर्देश

भोपाल. लगातार कोरोना वैक्सीन के दूसरे डोज को लेकर पिछड़ता जा रहे मध्यप्रदेश के ग्वालियर में वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने को लेकर जिला प्रशासन एक आदेश जारी करके वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाना का प्रयास कर रहा है. जिला कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि अब जिले के पेट्रोल पंप में बिना कोरोना वैक्सीन का सर्टिफिकेट देखे पेट्रोल और डीजल नहीं मिलेगा. इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को भी निर्देश जारी किए गए हैं.

सीएम की हिदायत के बाद से प्रशासन अलर्ट मोड में

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टर को हिदायत दी है कि जल्द से जल्द सभी को कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाएं. जिसको लेकर ग्वालियर समेत सभी जिलों के कलेक्टर अलग-अलग योजनाएं बना रहे हैं. जिस बीच ग्वालियर कलेक्टर से पेट्रोल डीजल को लेकर आदेश जारी किए हैं.

Viral Video: बंदर और बच्चे के बीच मोबाइल चलाने को लेकर नोकझोंक कैमरे में कैद

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी की जांच के बाद मिलेगा पेट्रोल डीजल

ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने सभी पेट्रोल पंप के साथ स्वास्थ्य विभाग को भी निर्देश जारी किए हैं. जिसके अनुसार, बिना कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट पेट्रोल डीजल नहीं मिलेगा. जिसके बाद सभी पेट्रोल पंप में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने टीम तैनात की है. जो पंप में आए ग्राहक का पहले सर्टिफिकेट चेक करती है फिर पंप में पेट्रोल भरवाने के लिए भेजती है. वहीं, जिनके पास सर्टिफिकेट नहीं होता है उनको नजदीकी वैक्सीनेशन केंद्र भेजकर वैक्सीन लगवाई जा रही है.

MP में 65 वर्षीय बुजुर्ग ने फुटपाथ पर तड़पकर तोड़ा दम, देखने वालों की आंखे हुई नम

बता दें कि प्रदेश में शुरू हुए वैक्सीनेशन अभियान के बाद अभी तक 14 लाख 56 हजार लोगों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है. वहीं, 7 लाख 22 हजार लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज लगाया जा चुका है.

अन्य खबरें