Lata Mangeshkar: अलविदा स्‍वर कोकिला! जानें इन सदाबहार गीतों ने लता दीदी को बनाया अमर

Sumit Rajak, Last updated: Sun, 6th Feb 2022, 2:25 PM IST
  • स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने दुनिया को अलविदा कह दिया है. बीते कई दिनों से स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रहीं लता ने 6 फरवरी को अपनी आखिरी सांस ली. लता मंगेशकर के निधन से न सिर्फ सिनेमाजगत में बल्कि पूरे देश में शोक की लहर छा गई है.
फाइल फोटो

भोपाल. स्वर कोकिला लता मंगेशकर  ने दुनिया को अलविदा कह दिया है. बीते कई दिनों से स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रहीं लता ने 6 फरवरी को अपनी आखिरी सांस ली. लता मंगेशकर के निधन से न सिर्फ सिनेमाजगत में बल्कि पूरे देश में शोक की लहर छा गई है. पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर सिनेमाजगत के सितारे तक लता को याद कर रहे हैं. लता मंगेशकर को उनके चाहने वाले ‘दीदी’ बुलाते थे. बता दें कि लता दीदी ने 13 साल की उम्र में 1942 में अपने करियर की शुरूआत की थी. लता ने सिर्फ हिंदी ही नहीं बल्कि विभिन्न भारतीय भाषाओं में गानों को अपनी आवाज दी. लता मंगेशकर ने अब तक 30 हजार से अधिक गाने गाए हैं ऐसे में एक नजर उनके उन नगमों पर जिनके बिना बॉलीवुड अधूरा है.

ए मेरे वतन के लोगों

लुका छिपी

मैं चली मैं चली

लग जा गले

मेरे साया साथ होगा

शीशा हो या दिल हो

जानें क्यों लोग मोहब्बत

दो पल रुका ख्वाबों का कारवां

अन्य खबरें