31 रेत खदानों के ठेके हुए निरस्त, विभाग ने समय से भुगतान न मिलने पर लिया फैसला

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 6th Jan 2022, 11:16 AM IST
एमपी के खरगोन की 31 रेत खदानों के ठेके को शासन ने निरस्त कर दिया है. शासन ने समय से भुगतान न मिलने पर ये फैसला लिया है. इस दौरान 36 नाके निरस्त करने के लिए भी कार्रवाई करने के आदेश जारी किए गए हैं. साथ ही राजस्व विभाग को खदानों पर कब्जा लेने के आदेश दिए गए हैं.
31 रेत खदानों के ठेके हुए निरस्त, विभाग ने समय से भुगतान न मिलने पर लिया फैसला (फाइल फोटो)

खरगोन (वार्ता). मध्यप्रदेश में चल रही रेत खदानों को लेकर शासन ने बड़ा फैसला लिया है. शासन ने खरगोन जिले की सभी 21 खदानों के ठेके निरस्त कर दिए हैं. समय से भुगतान न मिलने के चलते विभाग ने ये फैसला लिया. साथ ही शासन ने राजस्व विभाग को उन पर कब्जा लेने के आदेश दिए हैं. खदान के साथ ठेकेदार द्वारा निर्धारित 26 नाके भी निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं. सभी रेत खदानों के ठेकों को भुगतान के अभाव में भौमिक तथा खनिकर्म संचालक की ओर से निरस्त कर दिया गया है.

MP में 12 जनवरी को 3 लाख युवाओं को नौकरी-रोजगार देगी शिवराज सरकार

जिला प्रशासन की ओर से आज जारी विज्ञप्ति के अनुसार संचालक के निर्देश के उपरांत खरगोन कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने जिले में संचालित 31 रेत खदानों के ठेका निरस्त कर राजस्व विभाग को उन पर कब्जा लेने के आदेश दिए हैं. इसके अलावा ठेकेदार द्वारा निर्धारित 36 नाके निरस्त करने की कार्रवाई भी प्रचलन में है.

खनिज निगम लिमिटेड भोपाल की ओर से आरके गुप्ता कंस्ट्रक्शन एंड इंजिनियर्स प्राइवेट लिमिटेड को 10 जून 2020 से 30 जून 2023 तक के लिए 31 रेत खदानों के लिये अनुबंध किया गया था. इसमें 16 खदानें संचालित और 15 असंचालित की स्थिति में थी.

मध्यप्रदेश रेत (खनन, परिवहन, भंडारण, व्यापार) नियम के मुताबिक वार्षिक राशि की तय किश्तों के नियमानुसार भुगतान के अभाव में यह कार्रवाई की गई है.

 

अन्य खबरें