MP सरकार का बड़ा फैसला, अब होमगार्ड को भी ड्यूटी के दौरान मिलेगा भोजन भत्ता

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 1st Dec 2021, 2:52 PM IST
  • एमपी सरकार ने होमगार्ड को बड़ी सौगात देते हुए बड़ा फैसला लिया है. अब प्रदेश में कार्यरत होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों को ड्यूटी के दौरान निशुल्क भोजन व नाश्ता दिया जाएगा. इसको लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने घोषणा की. मिश्रा ने बताया कि बजट में 25-25 लाख रुपये की राशि का प्रावधान किया जा रहा है.
MP सरकार का बड़ा फैसला, अब होमगार्ड को भी ड्यूटी के दौरान मिलेगा भोजन भत्ता

भोपाल. मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों को बड़ी राहत मिली है. अभी तक ड्यूटी के दौरान होमगार्ड व एसडीईआरएफ जवानों को ड्यूटी के दौरान भोजन व नाश्ता का खर्च खुद करना पड़ता था. लेकिन अब शिवराज सरकार के फैसले के बाद होमगार्ड व एसडीईआरएफ जवानों को ड्यूटी के दौरान भोजन व नाश्ता शासन की तरफ से मुहैया कराया जाएगा. इसकी जानकारी प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी.

नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पुलिस और होमगार्ड जवानों में असमानता मिटाने के आधार पर ये फैसला मानवीय आधार पर लिया गया है. साथ ही विदेशी फंडिंग को लेकर भी जांच करवाने की मांग की है.

विदेशी फंडिंग के जरिए धर्म परिवर्तन मामले की होगी जांच- नरोत्तम मिश्रा

मानवीय आधार पर लिया गया ये फैसला

इस फैसले के बारे में जानकारी देते हुए राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों को अब ड्यूटी के दौरान निशुल्क नाश्ता और भोजन मिलेगा. मानवीय आधार पर लिए गए इस निर्णय के क्रियान्वयन के लिए बजट में 25-25 लाख रुपये की राशि का प्रावधान किया जा रहा है.

विदेशी फंडिंग की होगी जल्द जांच

विदेशी फंडिंग को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हम विदेश से आने वाले फंड की जांच कर रहे हैं, जो फंड आता है वो सकरात्मक दिशा में उपयोग हो रहा है या नहीं. जल्द ही इसकी विभाग द्वारा जांच करवाई जाएगी और उसके बाद कार्रवाई की जाएगी.

नरोत्तम मिश्रा के रायफल तानने पर खेल मंत्री यशोधरा राजे बोली- निशाना अचूक है!

कमलनाथ को सवाल उठाने से पहले पता करनी चाहिए जमीनी हकीकत

कमलनाथ के सरकार के प्रति हमलावर रवैये को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों के स्वास्थ्य और जनहित को ध्यान में रखते हुए ही निर्णय लेती है. पूरे कोरोना काल में घर बैठकर ट्वीट कर सियासी रोटियां सेंकने वाले कमलनाथ को कोई भी सवाल उठाने से पहले जरा जमीनी हकीकत का भी पता कर लेना चाहिए.

 

अन्य खबरें