घर बैठे मोबाइल से होगी अनारक्षित टिकट बुक, जानें कैसे करें UTS एप का इस्तेमाल

Swati Gautam, Last updated: Wed, 10th Nov 2021, 2:09 PM IST
  • कोरोना कहर के कम होने के चलते अब कई ट्रेनों में अनरिजर्वड यानी अनारक्षित टिकट से सफर करने की अनुमति मिल गई है. इसके चलते अब यात्री बिना लाइन में लगे घर बैठे मोबाइल में यूटीएस मोबाइल ऐप के जरिए टिकट बुक कर सकते हैं. जानें पूरी प्रक्रिया.
घर बैठे मोबाइल से होगी अनारक्षित टिकट बुक, जानें कैसे करें UTS एप का इस्तेमाल. file photo

भोपाल. देश में कोरोना महामारी फैलने के बाद से भारतीय रेलवे ने ट्रेनों में केवल रिजर्व टिकट वालों को यात्रा करने की अनुमति दी थी जिसके चलते अनारक्षित टिकट घर भी बंद कर दिए थे. लेकिन अब राहत वाली खबर यह है कि अब यात्री अनारक्षित या जनरल टिकट से ज्यादातर ट्रेनों के जनरल कोच में सफर कर सकते हैं. कोरोना संक्रमण के घटते मामलों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है. इतना ही नहीं जनरल या अनारक्षित टिकट लेने के लिए यात्रियों को भीड़ भाग वाली लंबी लाइन में नहीं लगना होगा. यात्री घर बैठे अपने मोबाइल पर यूटीएस मोबाइल एप के जरिए टिकट बुक कर सकते हैं

जबलपुर रेल मंडल में रीवा इंटरसिटी के जनरल कोच, जबलपुर-रीवा शटल में दो कोचों के साथ करीब आधा दर्जन ट्रेनों में अनारक्षित टिकट पर सफर शुरू हो गया है. जिन ट्रेनों में अनारक्षित या जनरल टिकट से यात्रा करने की अनुमति दी गई है उनके यात्रियों को अभी भी कोरोना गाइडलाइन संबंधी नियमों का पालन करना अनिवार्य है. अनुमति मिलने के बाद अब ज्यातर लोग मोबाइल पर यूटीएस ऐप के जरिए अनारक्षित टिकट बुक करेंगे. बता दें कि यूटीएस एप को हिंदी और अंग्रेजी दोनों में उपयोग कर सकते है. यहां नाम, मोबाइल नंबर रजिस्टर करने के बाद ओटीपी प्राप्त होगा, जिसके आप अपना आइडी और पासवर्ड बना सकेंगे.

गाड़ी के पास पटाखे जलाने से मना किया, तो युवक ने दोस्त के पड़ौसी की कार में आग लगाई

कैसे करें यूटीएस मोबाइल एप से टिकट बुक

मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर से यूटीएस एप डाउनलोड कीजिए.

इसके बाद आपको इसके साथ अपने मोबाइल नंबर को रजिस्टर करें.

अब आप अपनी आईडी बनाएं.

इसके बाद ऐप में आपको टिकट बुक करने के दो ऑप्शन दिखाई देंगे.

बुक एंड पेपर (पेपरलेस) और बुक एंड प्रिंट (पेपर) इन दोनों में से किसी का भी चुनाव करके आप टिकट बुकिंग की प्रक्रिया को शुरू कर सकते हैं.

यदि आप पेपरलेस का विकल्प चुनते हैं, तो आपको स्टेशन पर टिकट वेंडिंग मशीन से टिकट निकालने की आवश्यकता नहीं होगी.

अन्य खबरें