Lunar Eclipse- 19 नवंबर को लगेगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें सूतक काल से जुड़ी सारी जानकारी

Pallawi Kumari, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 8:38 AM IST
  • 19 नवंबर को चंद्र ग्रहण लगने वाला है. यहा साल का दूसरा चंद्र ग्रहण होगा. वहीं इसकी अवधि भी लंबी होगी, जिस कारण इसे सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण बताया जा रहा है. किसी भी ग्रहण से पहले सूतक काल का प्रभाव पड़ता है. आइये जानते हैं नवंबर में लगने वाले इस चंद्र ग्रहण के सूतक काल के बारे में.
साल का दूसरा चंद्र ग्रहण 19 नवंबर को, जानें सूतक काल का प्रभाव.

वैज्ञानिक दृष्टिकोण से ग्रहण लगना एक खगोलीय घटना मानी जाती है और जब भी कोई खगोलीय घटना घटती है तो उसके अच्छे बुरे प्रभाव भी होते हैं. इस नवंबर में साल का दूसरा चंद्र ग्रहण लगने वाला है, जोकि कई मायनों में खास होगा. ये साल का आखिरी चंद्र ग्रहण है और सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण है, जिसकी कुल अवधि लगभग 6 घंटे होगी. धार्मिक दृष्टिकोण की बात करें तो, ग्रहण को अशुभ माना जाता है. इसलिए ग्रहण के दौरान और ग्रहण से पहले सूतक काल में कई कार्यों के करने पर रोक होती है. यहां तक कि मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं. आइये जानते जानते हैं ग्रहण में सूतक काल से जुड़ी सारी जानकारी.

चंद्र ग्रहण का समय- 19 नबंवर 2021 को लगने वाला चंद्र ग्रहण सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण है, जोकि सुबह 11 बजकर 34 मिनट पर लगेगा और शाम 05 बजकर 33 मिनट पर ग्रहण समाप्त होगा. ग्रहण की कुल अवधि 5 घंटे 59 मिनट होगी.

Surya Grahan 2021: दिसंबर में लगेगा साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, इस कारण सूतक के प्रभाव से मिलेगा छुटकारा

सूतक काल का समय - बता दें कि चंद्र ग्रहण के शुरू होने से 9 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाता है. इस दौरान मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाते हैं. लेकिन 19 नवंबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण में सूतक काल मान्य नहीं होगा. क्योंकि यह ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा. भारत में यह ग्रहण एक उपछाया होगा. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, पूर्ण ग्रहण होने पर ही सूतक काल मान्य होता है. आंशिक या उपछाया होने पर सूतक नियमों का पालन अनिवार्य नहीं होता है.

बता दें कि 19 नवंबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण इस साल का दूसरा चंद ग्रहण होगा. इससे पहले 26 मई को पहला चंद्र ग्रहण लगा था. इसके बाद 4 दिसंबर को साल का दूसरा और आखिरी सूर्य ग्रहण लगेगा. 2021 में कुल चार ग्रहण लगेंगे, जिसमें दो चंद्र ग्रहण है और दो सूर्य ग्रहण.

 Dev Deepawali 2021: देव दीपावली पर इन देवता के लिए जलाएं एक दीया, सभी मनोकामनाएं होंगी पूरी

अन्य खबरें