उत्तराखंड: CDS बिपिन रावत के भाई कर्नल विजय रावत लड़ सकते हैं BJP के टिकट पर चुनाव

Swati Gautam, Last updated: Sat, 22nd Jan 2022, 9:28 PM IST
  • उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के चलते सूत्रों के हवाले से यह खबर आ रही है कि दिवंगत सीडीएस जनरल बिपिन रावत के भाई रिटायर कर्नल विजय रावत को भारतीय जनता पार्टी डोईवाला या फिर कोटद्वार सीट से चुनावी मैदान में उतार सकती है. कुछ समय पहले ही कर्नल विजय रावत ने बीजेपी ज्वाइन की है.
सीडीएस जनरल बिपिन रावत के भाई रिटायर कर्नल विजय रावत (file photo)

देहरादून. उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान शुरू होने में कुछ हफ्ते बचे हैं. चुनावी बुखार जोरों पर है. सभी राजनीतिक पार्टियां अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर रही हैं. ऐसे में सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि दिवंगत सीडीएस जनरल बिपिन रावत के भाई रिटायर कर्नल विजय रावत को भारतीय जनता पार्टी 2022 के चुनावों में डोईवाला या फिर कोटद्वार सीट से उतार सकती है. भाजपा इस संबंध में मंथन कर रही है जल्द ही पार्टी यह ऐलान कर सकती है कि रिटायर कर्नल विजय रावत को किस सीट से चुनावी मैदान में उतारा जाएगा. बता दें कि कुछ समय पहले ही रिटायर कर्नल विजय रावत बीजेपी में शामिल हुए थे.

बता दें कि हाल ही में हरक सिंह रावत को बीजेपी ने पार्टी से निकाल दिया है जिसके बाद वे कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. ऐसे में कोटद्वार की भी सीट खाली है. वहीं, त्रिवेंद्र रावत के मैदान से हटने के बाद डोईवाला सीट भी खाली हो गई है. ऐसे में सूत्रों की मानें तो इन दोनों सीटों में से किसी एक सीट पर ही रिटायर कर्नल विजय रावत को एक सैन्य चेहरे के रूप में विधानसभा चुनावों में उतारने की तैयारी कर रहे हैं. उनके चुनाव लड़ने पर करीब करीब निर्णय हो चुका है लेकिन सीट को लेकर अभी पेंच फंसा हुआ है.

पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत कांग्रेस में शामिल, बोले- BJP ने यूज एंड थ्रो समझा

शनिवार को रिटायर कर्नल विजय रावत देहरादून पहुंचे हैं. इस दौरान उन्होंने चुनावों को लेकर कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लीडरशिप और भाजपा की राष्ट्रवादी विचारधारा से प्रभावित होकर पार्टी में शामिल हुए हैं. वह राजनीति में रहकर राज्य वासियों की सेवा करना चाहते हैं. रिटायर कर्नल विजय रावत ने आगे कहा कि वह लंबे समय से स्वास्थ्य कारणों से समाज में कार्य करने में अक्षम रहे हैं लेकिन अब रजीनीति के माध्यम से प्रदेशवासियों और देश की सेवा के लिए वह तत्पर हैं.

अन्य खबरें