कांग्रेस की मांग, चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद नियुक्ति और तबादले निरस्त हो

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Tue, 11th Jan 2022, 10:53 AM IST
  • कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने चुनाव आयोग से उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 आचार संहिता लागू होने के बाद की गई नियुक्तियां और तबादलों को निरस्त करने की मांग की है. गोदियाल ने इसके लिए राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र भी लिखा.
कांग्रेस की मांग, चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद नियुक्ति और तबादले निरस्त हो

देहरादून (वार्ता). उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 की तारीखों के ऐलान के बाद यहां पर आदर्श आचार संहिता भी लागू कर दी है. जिसके बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने सोमवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखा. जिसमें उन्होंने मांग किया है कि राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू होने के उपरान्त विभिन्न विभागों में हुई नियुक्ति और स्थानान्तरणों के शासनादेश निरस्त किया जाए.

संगठन महासचिव मथुरादत्त जोशी ने यूनीवार्ता को बताया कि सीईओ को भेजे पत्र में श्री गोदियाल ने लिखा कि 08 जनवरी को आचार संहिता लागू होने के बाद राज्य सरकार ने पिछले तीन दिनों में सिंचाई विभाग, सहकारिता विभाग, ऊर्जा विभाग, कृषि विभाग, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग में कर्मचारियों की नियुक्ति/स्थानान्तण के आदेश जारी किये हैं, जो आदर्श चुनाव आचार संहिता के प्रावधानों का खुला उल्लंघन है.

ओपिनियन पोल: उत्तराखंड में फिर BJP की धामी सरकार या कांग्रेस के हरीश रावत की वापसी, जानिए

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने सीईओ से मांग की है कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर, की गई नियुक्तियों, स्थानान्तरण के शासनादेशों को तत्काल प्रभाव से निरस्त करते हुए इन विभागों के कम्प्यूटर सील किये जांय तथा इन प्रकरणों की जांच करते हुए सम्बन्धितों के खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के प्रावधानों के अन्तर्गत कार्रवाई की जाये.

अन्य खबरें