उत्तराखंड चुनाव को लेकर कांग्रेस की तैयारी शुरू, हरीश रावत FB live पर जनता से मांगेंगे सुझाव

Swati Gautam, Last updated: Sun, 7th Nov 2021, 3:04 PM IST
  • उत्तराखंड में 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं. चुनाव में घोषणा पत्र के लिए कांग्रेस जनता से सुझाव मांगेगी इस कड़ी में रविवार यानी आज शाम 5 बजे उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत जनता से रूबरू होंगे और जनता से सुझाव लेंगे.
उत्तराखंड चुनाव को लेकर कांग्रेस की तैयारी शुरू, हरीश रावत FB live पर जनता से मांगेंगे सुझाव. file photo

देहरादून: उत्तराखंड में 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां अभी से शुरू हो गई हैं. इन चुनावों में घोषणा पत्र के लिए कांग्रेस जनता से सुझाव मांगेगी. इसका माध्यम फेसबुक चुना गया है. बताया जा रहा है कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत आज यानी रविवार शाम को 5 बजे फेसबुक लाइव के जरिए आम लोगों से सीधे संवाद करेंगे. कांग्रेस ने फेसबुक लाइव के जरिए आमजन से जुड़ने और उनकी समस्याओं को जानने के लिए यह तरीका अपनाया है. बता दें कि कांग्रेस के चुनाव घोषणा पत्र को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया चल रही है जिसमें आम लोगों की भी भागीदारी की योजना है.

रविवार यानी आज शाम 5 बजे उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत जनता से रूबरू होंगे. इस कार्यक्रम का मुख्य मकसद जनता का सुझाव लेना है. यह कार्यक्रम कांग्रेस मेनिफेस्टो कमेटी द्वारा आयोजित किया जाएगा. बताया जा रहा है इस फेसबुक लाइव में हरीश रावत भी पार्टी की कुछ रणनीतियों को जनता से साझा करेंगे तो वहीं आम जनता से भी तरह तरह के सुझाव लेंगे. इस धारण जनता की समस्याओं को भी सुना और जाना जाएगा. मालूम हो कि को कांग्रेस मेनिफेस्टो कमेटी ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है और अब जनता से अंतिम सुझाव लिया जाएगा.

पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर देहरादून में 7 को चेतावनी रैली, कार्मिक करेंगे CM आवास का घेराव

कांग्रेस ने उत्तराखंड में 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर कई रणनीतियां बनाई हैं. सिर्फ फेसबुक नहीं घोषणापत्र में सुझाव के लिए पार्टी ने हर जिलों में प्रभारी भी बनाए हैं. जो राज्य के विभिन्न वर्गों के साथ बैठक कर उनसे सुझाव मांगे जा रहे हैं. इतना ही नहीं आज पूर्व सीएम फेसबुक लाइव आयेंगे जिसके बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल व नेता प्रतीपक्ष प्रीतम सिंह भी फेस बुक लाइव के जरिए जनता से सुझाव मांगेंगे. बता दें कि मैनिफेस्टो कमेटी ने अपने स्तर पर जनता के विभिन्न वर्गों के साथ संवाद कायम कर अपनी रिपोर्ट की तैयारी कर ली है.

अन्य खबरें