उत्तराखंड में फिर बढ़ेंगी बिजली की दरें! 14 फरवरी के बाद नई कीमतों पर सुनवाई

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Mon, 7th Feb 2022, 4:27 PM IST
  • उत्तराखंड में अप्रैल से 4 प्रतिशत बिजली की दरें बढ़ सकती है. बिजली की दरों में बढ़ोतरी के लिए युपसीएल ने विद्युत् नियामक आयोग को भेजा है. इसको लेकर मतदान के बाद सुनवाई शुरू किया जाएगा.
उत्तराखंड में फिर बढ़ेंगे बिजली की दरें! 14 फरवरी के बाद नई कीमतों पर सुनवाई

देहरादून. उत्तराखंड में एक अप्रैल से बिजली की नै दरें लागू हो सकती है. इसके लिए उत्तराखंड विद्युत् नियामक प्रस्ताव भी बना रहा है. जिसको लेकर बिजली के बिल में चार प्रतिशत की बढ़ोतरी को लेकर प्रस्ताव पर आम जनता से राय भी लिया जाएगा. इतना ही नहीं इस प्रस्ताव पर जनता से सुझाव के साथ आपत्ति भी लिए जाएंगे. बिजली के दरों की बढ़ोतरी को लेकर उत्तराखंड में कई स्थानों पर सुनवाई भी होगी जो उत्तराखंड विधानसभा चुनाव सम्पन्न होने के बाद होंगे. 

बिजली के दरों में चार प्रतिशत बढ़ोतरी के प्रस्ताव को यूपीसीएल ने नियामक आयोग को भेजा है. आयोग के स्तर पर निगम के प्रस्ताव की पड़ताल की जा रही है. आयोग इस प्रस्ताव पर आम जनता समेत सभी वर्गों से सुझाव लिया जाएगा.. इसके साथ ही इसकी सुनवाई में  उद्योग, किसान, व्यापारी वर्ग से भी राय लिया जाएगा.

सिंगर जुबिन नौटियाल के पिता रामशरण सबसे अमीर प्रत्याशी, जानें कितनी है संपत्ति

बिजली की दरों में बढ़ोतरी को लेकर होने वाली सुनवाई पिछली साल की तुलना में देरी से हो रही है. दरअसल यूपीसीएल ने बिजली की दरों में बढ़ोतरी को लेकर प्रस्ताव को 30 नवंबर को जमा हो जाना चाहिए था. जो की समय से नहीं हो पाया. वहीं फिर यह प्रस्ताव दिसंबर महीने में जमा हो सका. जिसके चलते इसकी सुनवाई अब चुनाव के संपन्न होने के बाद होंगी. सुनवाई के बाद बिजली की दरों के बढ़ोतरी का फाइनल मर्च अंतिम में होगा. जिसके बाद अप्रैल में नै दरें लागू कर दी जाएगी.

पिछली बारों की तुलना में यूपीसीएल ने इस बार बिलजी की दरों में में बढ़ोतरी का प्रस्ताव को कम भेजा है. जानकारी के अनुसार यूपीसीएल ने पिछले के सालों में 25 प्रतिशत वृद्धि का प्रस्ताव भेजा जाता था. इसके बाद कई साल तक 15 से 10 प्रतिशत तक का प्रस्ताव भेजा गया. लेकिन इस बार यूपीसीएल ने केवल चार प्रतिशत बिजली की दरों में बढ़ोतरी का प्रस्ताव भेजा है.

अन्य खबरें