देहरादून की श्रम अधिकारी ने लगाया अभियंता पति पर दहेज उत्पीड़न का आरोप, केस दर्ज

Deepakshi Sharma, Last updated: Sat, 16th Oct 2021, 1:33 PM IST
  • देहरादून जिले की एक श्रम अधिकारी ने अपने अभियंता पति पर कई गंभीर आरोप लगाए. पिंकी टम्टा ने दहेज उत्पीड़न और मारपीट का आरोप अपने पति पर लगाया है. इस मामले को लेकर फिलहाल मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.
श्रम अधिकारी ने लगाए अभियंता पति पर गंभीर आरोप

देहरादून. जिले की एक श्रम अधिकारी ने अपने अभियंता पति पर दहेज उत्पीड़न और मारपीट करने का गंभीर आरोप लगाया है. श्रम अधिकारी के पति के खिलाफ रायपुर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कराया है. राज्य महिला आयोग में की गई शिकायत में पिंकी टम्टा ने बताया कि 14 अक्टूबर 2013 में उनकी शादी शरद टम्टा से हुई थी. उनके पति शरद लोक निर्माण विभाग में अवर अभियंता के पैदा पर तैनात है.

25 सितंबर 2014 को जब उन्होंने बेटे को जन्म दिया तो उनके पति और ससुरवालों ने उन पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया. डिलीवरी के वक्त वो अपने मायके नरेंद्रनगर में रही थी. कुछ वक्त के बाद वो अपने ससुरल गौचर वापस चल गई. जहां पर उन्हें परेशान करना शुरू कर दिया. आरोप ये है कि पिंकी को दहेज न लाने के लिए परेशान किया जा रहा था. इसके बाद उनके पति ने अपना तबादला गोपेश्वर में करा लिया था.

उत्तराखंड आप प्रभारी का दावा, कहा- 20 नवंबर को 70 विधानसभाओं पर प्रत्याशी घोषित करेगी पार्टी

आरोप ये भी है कि जब जुलाई 2016 में पिंकी ने पति को बच्चे संभालने के लिए कहा तो उसने पिटाई कर दी. पिंकी ने बताया कि 2017 में फिर से वो प्रेग्नेंट हो गई. जब इस बारे में उन्होंने अपने पति को बताया तो वो गुस्सा हो गए. 2017 में पिंकी का तबादला देहरादून हो गया. 17 नवंबर में उन्होंने दूसरे बच्चे को जन्म दिया. उनके बच्चे को निमोनिया हो गया. जब इस बारे में उन्होंने अपने पति को बताई तो वह गुस्सा हो गए. महिला ने बताया कि मई 2019 में उन्होंने अपने पति के फोन को जब चेक किया तो उसमें किसी महिला के साथ उनकी बातचीत की बात सामने आई.

आज अयोध्या रवाना होंगे CM पुष्कर सिंह धामी, हनुमानगढ़ी और रामलला के दर्शन करेंगे

जब 2019 में दीपावली के वक्त वो देहरादून आए तो उन्होंने पिंकी की पिटाई की. महिला का ये आरोप है कि 20 मार्च 2021 को उनके पति ने दो व्यक्तियों को उन्हें मारने के लिए भी भेजा था. इस मामले को लेकर एसओर रायपुर अमरजीत सिंह रावत ने बताया कि राज्य महिला आयोग के आदेश पर शरद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

अन्य खबरें