उत्तराखंड: इन शहरों में 24 घंटे मिलेगा पीने का पानी, जायका प्रोजेक्ट से हर घर के नल में आएगा जल, जानें

Sumit Rajak, Last updated: Fri, 4th Mar 2022, 1:44 PM IST
  • उत्तराखंड राज्य के 38 नगरों की पेयजल सप्लाई व्यवस्था दुरुस्त होगी. इसके लिए राज्य सरकार 1600 करोड़ का प्रोजेक्ट तैयार कर लिया गया है. इसके लिए बजट ‘जायका’ से जुटाया जाएगा. इस योजना से 38 नगरों में 24 घंटे पानी की सप्लाई होगी. हर घर में पानी के कनेक्शन दिया जाएंगे.
फाइल फोटो

देहरादून. उत्तराखंड से जुड़ी खबर सामने आई है. उत्तराखंड राज्य के 38 नगरों की पेयजल सप्लाई व्यवस्था दुरुस्त होगी. इसके लिए राज्य सरकार 1600 करोड़ का प्रोजेक्ट तैयार कर लिया गया है. इसके लिए बजट ‘जायका’ से जुटाया जाएगा. इस योजना से 38 नगरों में 24 घंटे पानी की सप्लाई होगी. हर घर में पानी के कनेक्शन दिया जाएंगे. योजना से इन नगरों की पांच लाख की आबादी को फायदा मिलेगा.

इस प्रोजेक्ट में उन शहरो को शामिल किया गया है, जहां अभी तक किसी भी बड़ी योजना से बजट उपलब्ध नहीं कराया गया है.  राज्य में कुल 93 नगर हैं. इनमें से सिर्फ 24 नगर ही ऐसे हैं, जहां पर्याप्त 135 एलपीसीडी पानी उपलब्ध है. 28 नगर ऐसे हैं, जहां 70 से 134 एलपीसीडी पानी मिलता है.  वहीं 41 शहरों में 70 एलपीसीडी से भी कम पानी मिलता है, 

दुस्साहस: देहरादून में कॉलेज के सामने युवक ने छात्रा की गोली मारकर हत्या

नगरों में भी हर घर पानी के कनेक्शन नहीं:  बता दें कि राज्य में 26 ही नगर ऐसे हैं, जहां के 75 घरों में पानी के कनेक्शन हैं. 24 नगरों में 50 से 75 प्रतिशत घरों में पानी के कनेक्शन हैं. 25 नगरों में 25 से 50 प्रतिशत घरों में पानी के कनेक्शन हैं. वहीं 17 नगर ऐसे हैं, जहां 25 प्रतिशत से भी कम घरों में पानी के कनेक्शन हैं.

138 करोड़ से तैयार होंगी ग्रेविटी स्कीम:  राज्य के नौ नगरों में 138 करोड़ की लागत से ग्रेविटी पेयजल स्कीम तैयार होंगी. ये ग्रेविटी योजनाएं गोपेश्वर, जोशीमठ, नंदप्रयाग, पीपलकोटी, थराली, तिलवाड़ा, ऊखीमठ, अगस्त्यमुनि, चिन्यालीसौड़ में तैयार होंगी.

गढ़वाल में यहां  से होकर आएगा 24 घंटे पानी

गैरसैंण - थराली - नंदप्रयाग - जोशीमठ - पीपलकोटी - गोपेश्वर - पिरान कलियर - शिवालिकनगर - भगवानपुर - लक्सर - लंढौरा - झबरेड़ा - चमियाला - चंबा - घनसाली - लंबगांव - कीर्तिनगर - टिहरी - तिलवाड़ा - रुद्रप्रयाग - ऊखीमठ- अगस्त्यमुनि - बड़कोट - चिन्यालीसौड़ - पुरोला - नौगांव.

मुख्यालय के मुख्य अभियंता सुरेश चंद्र पंत ने कहा कि जायका से राज्य के 38 नगरों की पेयजल सप्लाई  की व्यवस्था की जाएगी. पहली बार ऐसे नगर लिए गए हैं, जहां पहले किसी बड़ी योजना के तहत बजट उपलब्ध नहीं कराया गया है. यहां 24 घंटे पेयजल सप्लाई उपलब्ध हो सके, इसे देखते हुए योजनाएं तैयार की जाएंगी. कुल 1600 करोड़ का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है.

अन्य खबरें