उत्तराखंड चुनाव: प्रियंका गांधी का BJP पर साधा निशाना, कहा-जनता की टूटी उम्मीदें

Komal Sultaniya, Last updated: Wed, 2nd Feb 2022, 9:42 PM IST
  • कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र 'उत्तराखंडी स्वाभिमान प्रतिज्ञा पत्र' जारी किया. इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उत्तराखंड में पांच साल में जनता की उम्मीदें टूटी हैं. भाजपा सरकार ने कुछ नहीं किया. केंद्र और राज्य के डबल इंजन को भी निशाने पर लिया.
उत्तराखंड चुनाव: प्रियंका गांधी का BJP पर साधा निशाना, कहा-जनता की टूटी उम्मीदें

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र 'उत्तराखंडी स्वाभिमान प्रतिज्ञा पत्र' जारी किया. प्रियंका गांधी वाड्रा ने घोषणापत्र में जनता से लुभावने वायदों की झड़ी लगाई गई है. कैनाल रोड स्थित एक वेडिंग प्वाइंट में पार्टी की वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकारों पर तीखे हमले बोले. वर्चुअल रैली से राज्य के 70 विधानसभा क्षेत्रों को जोड़ा गया था.

इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उत्तराखंड में पांच साल में जनता की उम्मीदें टूटी हैं. भाजपा सरकार ने कुछ नहीं किया. केंद्र और राज्य के डबल इंजन को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से इंजन ही ठप हो गया. आम बजट में भी गरीबों, मध्यम वर्ग के लिए कुछ नहीं किया गया. हीरे के दाम कम हुए, लेकिन दवा के दाम बढ़ाए गए हैं. इन हालात में जनता को आंखें खोलनी ही होंगी.

उत्तराखंड कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, 4 लाख रोजगार, 5 लाख परिवारों को मिलेंगे 40 हजार

उन्होंने कहा कि राज्य में जो काम पहले कांग्रेस की सरकारों ने किया, वही आज दिखता है. चुनाव आता है तो बड़ी-बड़ी घोषणाएं होती हैं. जो परियोजनाएं पांच साल से शुरू नहीं की गईं, उनका उद्घाटन अब यह दिखाने के लिए किया जा रहा है कि बड़े-बड़े कार्य किए गए हैं. कांग्रेस की ओर से किए गए वायदों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जब हम घोषणा करते हैं तो सवाल उठाए जाते हैं. यह कहा जाता है कि घोषणाओं को पूरा करने के लिए पैसा कहां से लाएंगे.

प्रियंका गांधी का ऐलान- यूपी में कांग्रेस आई तो होगा किसानों का कर्ज माफ

सरकार अपने प्रचार पर बेतहाशा खर्च कर रही है, लेकिन जनता की समस्याओं के समाधान के लिए पैसा नहीं है.'लड़की हूं, लड़ सकती हूं, के नारे से महिलाएं खुश होती हैं. परिवार का सबसे ज्यादा बोझ महिलाओं पर पड़ता है. कोरोना की वजह से भी उन पर बोझ बढ़ा लेकिन राजनीतिक पार्टियां महिलाओं की बात नहीं करतीं.

कांग्रेस घोषणापत्र में क्या रहा खास

रसोई गैस सिलिंडर के दाम नहीं होंगे 500 रुपये के पार, सरकार करेगी भरपाई

चार लाख युवाओं को देंगे रोजगार

पांच लाख परिवारों को देंगे सालाना 40 हजार रुपये

स्वास्थ्य सुविधाएं हर गांव, हर द्वार

सरकार बनने पर पहले वर्ष 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली, इसके बाद चरणबद्ध तरीके से बढ़ाई जाएगी छूट

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र 'उत्तराखंडी स्वाभिमान प्रतिज्ञा पत्र' जारी किया. प्रियंका गांधी वाड्रा ने घोषणापत्र में जनता से लुभावने वायदों की झड़ी लगाई गई है. कैनाल रोड स्थित एक वेडिंग प्वाइंट में पार्टी की वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकारों पर तीखे हमले बोले. वर्चुअल रैली से राज्य के 70 विधानसभा क्षेत्रों को जोड़ा गया था.

इस दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उत्तराखंड में पांच साल में जनता की उम्मीदें टूटी हैं. भाजपा सरकार ने कुछ नहीं किया. केंद्र और राज्य के डबल इंजन को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से इंजन ही ठप हो गया. आम बजट में भी गरीबों, मध्यम वर्ग के लिए कुछ नहीं किया गया. हीरे के दाम कम हुए, लेकिन दवा के दाम बढ़ाए गए हैं. इन हालात में जनता को आंखें खोलनी ही होंगी.

उत्तराखंड कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, 4 लाख रोजगार, 5 लाख परिवारों को मिलेंगे 40 हजार

उन्होंने कहा कि राज्य में जो काम पहले कांग्रेस की सरकारों ने किया, वही आज दिखता है. चुनाव आता है तो बड़ी-बड़ी घोषणाएं होती हैं. जो परियोजनाएं पांच साल से शुरू नहीं की गईं, उनका उद्घाटन अब यह दिखाने के लिए किया जा रहा है कि बड़े-बड़े कार्य किए गए हैं. कांग्रेस की ओर से किए गए वायदों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जब हम घोषणा करते हैं तो सवाल उठाए जाते हैं. यह कहा जाता है कि घोषणाओं को पूरा करने के लिए पैसा कहां से लाएंगे.

प्रियंका गांधी का ऐलान- यूपी में कांग्रेस आई तो होगा किसानों का कर्ज माफ

सरकार अपने प्रचार पर बेतहाशा खर्च कर रही है, लेकिन जनता की समस्याओं के समाधान के लिए पैसा नहीं है.'लड़की हूं, लड़ सकती हूं, के नारे से महिलाएं खुश होती हैं. परिवार का सबसे ज्यादा बोझ महिलाओं पर पड़ता है. कोरोना की वजह से भी उन पर बोझ बढ़ा लेकिन राजनीतिक पार्टियां महिलाओं की बात नहीं करतीं.

कांग्रेस घोषणापत्र के प्रमुख बिंदु

रसोई गैस सिलिंडर के दाम नहीं होंगे 500 रुपये के पार, सरकार करेगी भरपाई

चार लाख युवाओं को देंगे रोजगार

पांच लाख परिवारों को देंगे सालाना 40 हजार रुपये

स्वास्थ्य सुविधाएं हर गांव, हर द्वार

सरकार बनने पर पहले वर्ष 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली, इसके बाद चरणबद्ध तरीके से बढ़ाई जाएगी छूट

|#+|

 

 

अन्य खबरें