7वें वेतनमान को लेकर पूर्व सैनिकों का धरना 5वें दिन भी जारी, काम का बहिष्कार

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 21st Nov 2021, 2:15 PM IST
  • उत्तराखंड में पूर्व सैनिकों का 7वें वेतनमान को लेकर धरना 5वें दिन भी जारी है. पूर्व सैनिकों ने इस दौरान काम का भी बहिष्कार कर दिया है. 2016 से इस मांग को लेकर पूर्व सैनिक आंदोलन कर रहे हैं.
7वें वेतनमान को लेकर पूर्व सैनिकों का धरना 5वें दिन भी जारी, काम का बहिष्कार (फोटो सभार लाइव हिंदुस्तान)

देहरादून. उत्तराखंड में 7वें वेतनमान को लेकर चल रहा पूर्व सैनिकों का आंदोलन खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. ये आंदोलन 5वें दिन भी जारी रहा. कर्मचारी संगठन सैनिक कल्याण उत्तराखंड के बैनर तले चल रहे इस आंदोलन के तहत पूर्व सैनिकों ने काम का भी बहिष्कार भी किया. पूर्व सैनिक कर्मचारी 2016 से 7वां वेतनमान दिया जाए. इसकी मांग कर रहे हैं.

इन मांगों को लेकर चल रहा आंदोलन

पूर्व सैनिक अपनी मांगों को लेकर बड़ी संख्या में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. 5वें दिन भी ये वेतनमान की मांग को लेकर जारी धरना जारी है. इसके तहत सैनिक कल्याण कर्मचारियों को 7वां वेतनमान साल 2016 से दिया जाए और संविदा कर्मियों को नियुक्ति की तारीख से नियमितीकरण की मांग कर रहे हैं.

जंगल मे सेल्फी लेना युवक को पड़ा भारी, गुलदार ने किया हमला, गंगा में कूदकर बचाई जान

75 फीसदी वेतन केंद्र सिर्फ 25 फीसदी देता राज्य

केंद्रीय सैनिक बोर्ड रक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार पूर्व सैनिक संगठन ने समर्थन देने की घोषणा की है. जिसमें 75 फीसदी वेतन और भत्ते भारत सरकार रक्षा मंत्रालय केंद्रीय सैनिक बोर्ड दिल्ली द्वारा दी जाती है. सिर्फ 25 फीसदी राज्य सरकार द्वारा दिया जाता है.

ट्रेड फेयर में बोले सतपाल महाराज, चार धाम यात्रा के बाद अब उत्तराखंड में विंटर टूरिज्म पर फोकस

मंत्री गणेश जोशी से मुलाकात कर निस्तारण की मांग

पूर्व सैनिकों का कहना है कि ये दुर्भाग्य की बात है कि सैनिक कल्याण संविदा कर्मचारियों को अपनी मांग के लिए धरने पर बैठना पड़ रहा है. उनको सड़क पर धरना देना पड़ रहा है. पूर्व सैनिकों ने सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी से मिलकर उनकी मांग को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से चर्चा कर कैबिनेट में इसको लेकर आदेश करने को कहा है.

 

अन्य खबरें