अफसरों की लापरवाही से अटकी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट की मान्यता, फिर से करना पड़ सकता आवेदन

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 3rd Oct 2021, 9:33 AM IST
  • उत्तराखंड सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट कहे जाने वाले अल्मोड़ा मेडिकल कालेज की मान्यता का काम अफसरों की लापरवाही की वजह से इस बार भी नहीं हो पाया. अब एनएमसी ने कालेज को फिर से 2022-23 के सत्र में मान्यता के लिए आवेदन करने को कहा है. इससे पहले भी कागज पूरे न होने की वजह से कालेज की मान्यता नहीं हो पाई थी.
अफसरों की लापरवाही से अटका सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट

चांद मोहम्मद, हरादून. सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को इस सत्र भी मान्यता मिलनी मुश्किल लग रही है. सरकार के अफसरों की लापरवाही से कालेज को मान्यता नहीं मिल पा रही है. इससे पहले राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) को सौ सीटों की मान्यता के लिए आवेदन किया गया था, लेकिन आवेदन  पूर्ण न होने की वजह से एनएमसी की टीम ने निरीक्षण नहीं किया था. वहीं, दोबारा आवेदन करने पर एनएमसी ने 2021-22 सत्र के आवेदन के लिए निरीक्षण को मना कर दिया है. सरकार चुनावी साल से पहले कालेज की शुरुआत करना चाहती है. अब इस मामले को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से गुहार लगाई गई है कि इस वर्ष ही निरीक्षण कर मान्यता की प्रक्रिया पूरी करवा ली जाए.

लेटर ऑफ एकनॉलिजमेंट न होने की वजह से नहीं हो सकता निरीक्षण

कालेज ने मान्यता के लिए पहली बार आवेदन किया था,तब आवेदन पूर्ण न होने की वजह से एनएमसी की टीम ने निरीक्षण नहीं किया था. जिसके बाद कालेज ने 15 सितंबर को फिर से आवेदन किया है. जिसके जवाब में 23 सितंबर को एनएमसी ने पत्र भेजकर यह कहते हुए 2021-22 सत्र के लिए निरीक्षण करने से मना कर दिया कि आवेदन प्रक्रिया पूरी न होने से लेटर ऑफ एकनॉलिजमेंट कालेज को नहीं दिया गया. जिसके चलते निरीक्षण नहीं होगा.

देहरादून डबल मर्डर: पुलिस का खुलासा- बड़े घर में नौकर बनने के लिए आरोपी ने दो लोगों को मार डाला

मेडिकल कालेज शुरू करने 31 डॉक्टरों को भेजा गया अल्मोड़ा

सरकार इस मेडिकल कालेज को चुनावी साल में शुरू करना चाहती है जिसके चलते सरकार ने प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कालेज से 31 डॉक्टरों को अल्मोडा भेजा था, लेकिन एनएमसी के पत्र के बाद कई डॉक्टर छुट्टी लेकर चले गए. एनएमसी ने अब कालेज को 2022-23 के सत्र के फिर से नया आवेदन करने को कहा, जिसमें आवेदन के लिए दोबारा फीस भरनी होगी.

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना काल में नौकरी गंवा चुके इन लोगों को मिलेगी सैलरी

मान्यता के लिए की केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात

अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को मान्यता के मामले को लेकर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मुलाकात कर अल्मोड़ा मेडिकल कालेज की मान्यता को लेकर बातचीत की. वहीं, इस मामले में चिकित्सा शिक्षा विभाग के अपर निदेशक डॉ. आशुतोष सयाना ने कहा कि कालेज के प्राचार्य एनएमसी में अपील कर चुके हैं. नीट का रिजल्ट अभी जारी नहीं हुआ है. जिसके चलते दल के निरीक्षण करने की उम्मीद बनी हुई है.

 

अन्य खबरें