उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी, गंगोत्री-यमुनोत्री हाईवे बंद, फंस गए यात्री

Swati Gautam, Last updated: Sun, 9th Jan 2022, 6:33 PM IST
  • शनिवार से लगातार बारिश और बर्फबारी के चलते गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे कई स्थानों पर यातायात के लिए बंद पड़ा है. दोनों हाईवे पर पिछले 30 घंटों से यातायात बंद है. पहले से पहुंचे पर्यटक रास्ते में फंसे हुए हैं. सड़कों पर बर्फ जम गई है जिसको हटाने का कार्य चल रहा है. पिछले 24 घंटे से बिजली भी गुल है.
उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी, गंगोत्री-यमुनोत्री हाईवे बंद, फंस गए यात्री

देहरादून. आजकल बड़ी तादात में लोग उत्तराखंड घूमने जा रहे हैं यदि अगले कुछ दिनों में आप भी उत्तराखंड टूर की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके लिए यह जरूरी सूचना है. शनिवार से लगातार बारिश और बर्फबारी के चलते गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे अभी भी कई स्थानों पर यातायात के लिए बंद पड़ा है. बता दें कि दोनों हाईवे पर पिछले 30 घंटों से यातायात बंद है. पहले से पहुंचे पर्यटक रास्ते में फंसे हुए हैं. सड़कों पर बर्फ जम गई है जिसको हटाने का कार्य चल रहा है. यमुनोत्री हाईवे हनुमान चट्टी तथा राड़ी टॉप में बर्फबारी के कारण पिछले 30 घंटे ज्यादा समय से बाधित है. इसके अलावा हाईवे गंगनानी, सुक्की टॉप से गंगोत्री तक का रास्ता भी बंद है.

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेन्द्र पटवाल ने बताया कि गंगोत्री, यमुनोत्री हाईवे को सुचारु करने के लिए बीआरओ व एनएच के मजदूर मार्ग को सुचारु करने में जुटे हैं. जिले में बीती शनिवार सुबह से ही बारिश व बर्फबारी का सिलसिला शुरू हो गया था जो कि अब लोगों के लिए आफत बन गया है. बर्फबारी के कारण गंगोत्री हाईवे गंगनानी सुक्की टॉप, हर्षिल, धराली व भैरव घाटी से गंगोत्री तक का रास्ता पूरी तरह से बाधित है. बीआरओ की ओर से जेसीबी लगाकर हाईवे पर गिरी पांच से छह फीट बर्फ को साफ करने का कार्य युद्धस्तर पर जारी है.

Corona Virus: उत्तराखंड में 16 जनवरी तक राजनीतिक रैलियों और धरनों पर पाबंदी

24 घंटों से बिजली गुल

बारिश और बर्फबारी तो पर्यटकों व ग्रामीणों के लिए मुसीबत बन ही गया है लेकिन इसके साथ ही एक और बड़ी समस्या से लोग गुजर रहे हैं. खराब मौसम के चलते संगमचट्टी क्षेत्र और मोरी के नैटवाड़ क्षेत्र में पिछले 24 घंटों से बिजली भी नहीं आ रही है. ग्रामीण रातें अंधेरे में काटने को मजबूर हैं. बता दें कि उत्तरकाशी लम्बगांव मोटर मार्ग चौरंगी खाल, संकूर्णाधार समेत जिले के आठ लिंक मार्ग यातायात के लिए बाधित हैं लेकिन देहरादून-सुवाखोली मार्ग यातायात के लिए खुला है.

अन्य खबरें