सूअर को नहीं आता कभी पसीना, पोर्क खाने से आ सकता है हार्ट अटैक, जानें कारण

Ruchi Sharma, Last updated: Thu, 3rd Feb 2022, 10:21 AM IST
  • सूअर एक मात्र ऐसा जानवर है जिसे पसीना नहीं होता है. दरअसल सूअर के शरीर में पसीने वाली ग्रंथियां नहीं होती है. लिहाजा उसके शरीर में कभी पसीना नहीं आता है. इतना ही नहीं पसीना नहीं आने के कारण सूअर की बॉडी ज्यादा विषैली हो जाती हैं
प्रतीकात्मक तस्वीर

गर्मी हर किसी को लगती हैं. पसीना हर किसी को आता है. चाहे जानवर हो या इंसान. जब हमारे शरीर में गर्मी होती है, तो हमारी लाखों पसीने की ग्रंथियां पसीना पैदा करती हैं, जो बाद में हमारी त्वचा के माध्यम से शरीर से निकल जाता है. जैसे ही पसीना हमारी त्वचा से निकलता है, यह गर्मी को दूर करता है और शरीर के तापमान को कम करता है. ऐसे ही हर जानवर को अपने शरीर के तापमान को नियंत्रित करने की ज़रूरत पड़ती है. इसे करने का प्रत्येक जीव का तरीका अलग अलग होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं दुनिया में एक ऐसा जानवर है जिसे कभी पसीना नहीं आया. वह है गंदगी में रहने वाला जानवर सूअर. सूअर एक मात्र ऐसा जानवर है जिसे पसीना नहीं होता है. दरअसल सूअर के शरीर में पसीने वाली ग्रंथियां नहीं होती है. लिहाजा उसके शरीर में कभी पसीना नहीं आता है. इतना ही नहीं पसीना नहीं आने के कारण सूअर की बॉडी ज्यादा विषैली हो जाती हैं.

इतना ही नहीं सूअर की सबसे खास बात यह है कि अगर आप उस पर किसी भी प्रकार के जहर का प्रयोग करके उसे मारने की कोशिश करते हैं, तो उस पर वह जहर काम नहीं करता. क्योंकि, उसकी बॉडी उस जहर से ज्यादा विषैली होती है. लिहाजा, यह इकलौता जानवर है जिसे कभी पसीना नहीं आता है.

अजब-गजब: बैलों की मौत के बाद किसान ने चार हजार लोगों को दिया मृत्यु भोज

 

हो सकती है हार्ट अटैक की समस्या

जानकारी के मुताबिक अगर कोई भैंस का मीट खाता है, तो उसे पचाने में 6 से 7 घंटे समय लग जाता है, लेकिन, सूअर के मांस को पचने में केवल 3 से 4 घंटे का समय ही लगता है. सूअर का मांस हमारे शरीर में जल्दी पचने से इस पर उपस्थित टॉक्सिन नामक जहर हमारे शरीर के लीवर पर सीधा अटैक करता है और जिसकी वजह से हार्ट अटैक भी आ सकता है.

अन्य खबरें