उत्तराखंड के कई इलाकों में गर्जन के साथ भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 13th Sep 2021, 2:45 PM IST
  • मौसम विभाग ने उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली,  बागेश्वर, पिथौरागढ़, जनपदों में भारी बारिश की संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.
मौसम विभाग ने भारी बारिश की संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. (प्रतिकात्मक फोटो)

देहरादून. उत्तराखंड के कई इलाकों में गर्जन के साथ हल्की से मध्यम बारिश होगी. मौसम विभाग ने इसके मद्देनजर चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग ने उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली,  बागेश्वर, पिथौरागढ़, जनपदों में भारी बारिश की संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इस बीच टिहरी झील का जलस्तर बढ़ने से चिन्यालीसौड़ पुरानी जोगत रोड ब्लॉक मुख्यालय के पास लगभग सड़क का 10 मीटर हिस्सा झील में समा गया है.

टिहरी झील का जलस्तर बढ़ने से विकासखंड चिन्यालीसौड़ की आवासीय कालोनी, बिजलवाण मौहल्ला एवं ब्रिज पर खतरा मंडरा रहा है. लिहाजा, सुरक्षा की दृष्टि से इस मोटर मार्ग को पुलिस ने बंद कर दिया है. मौजूदा समय में टिहरी झील का जलस्तर 828 मीटर है. बताते चलें कि इस बार सरकार ने झील का जलस्तर 830 मीटर तक भरने की अनुमति दी है. इस लिहाज से झील के तटवर्ती गांवों और गमरी- दिचली पट्टियों को जोड़ने वालों संपर्क मोटर मार्गों को झील के कटाव के वजह से परेशानी हो सकती है.

PHOTOS: देहरादून का मालसी डियर पार्क, प्रकृति प्रेमियों के लिए क्यों है खास जानिए

गौरतलब है कि 2013 की आपदा में टिहरी बांध की झील का जलस्तर काफी बढ़ गया था. इस दौरान इस झील का जलस्तर 831 मीटर पहुंच गया था. इस वजह से बिजली का उप्तादन तकरीबन एक सप्ताह तक ठप हो गया था. हालांकि, चमोली जनपद में गौचर से माणा गांव तक बदरीनाथ हाईवे पर आवागमन जारी है. जबकि जोशीमठ-नीती हाईवे भी सुचारू है. वहीं, चमोली जनपद में बारिश और भूस्खलन से 13 सड़कें अभी भी बंद हैं.

अन्य खबरें