Lunar Eclipse : चंद्र ग्रहण में क्यों रखी जाती है खाने में तुलसी, क्या है इसका महत्व

Smart News Team, Last updated: Fri, 19th Nov 2021, 4:59 PM IST
  • ज्योतिष व धार्मिक दृष्टि से चंद्र ग्रहण के समय कई सावधानियां बरतने को कहा जाता है. खासतौर से इस दौरान खाने पीने को लेकर सतर्क रहने को कहा जाता है. ऐसा भी कहा जाता है कि चंद्र ग्रहण के समय खाने पीने के सामान में तुलसी का पत्ता रखना चाहिए.
ग्रहण में क्यों रखी जाती है खाने में तुलसी

आज 19 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा है. संयोग से इस दिन साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगा हुआ है. यह चंद्र ग्रहण कई नजरिए में खास है. यह सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण है. ज्योतिष व धार्मिक दृष्टि से चंद्रग्रहण के समय कई सावधानियां बरतने को कहा जाता है. खासतौर से इस दौरान खाने पीने को लेकर सतर्क रहने को कहा जाता है. ऐसा भी कहा जाता है कि चंद्र ग्रहण के समय खाने पीने के सामान में तुलसी का पत्ता रखना चाहिए , क्योंकि बना हुआ खाना खराब हो जाता है. आइए जानते हैं ग्रहण के समय तुलसी के इस्तेमाल के पीछे वैज्ञानिक और धार्मिक कारण..

दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है

जैसा कि हमारे देश में तुलसी का धार्मिक महत्व बहुत अधिक है. हिंदू धर्म में मान्यता है कि समुद्र मंथन के समय जो अमृत धरती पर छलका, उससे ही तुलसी की उत्पत्ति हुई. ग्रहणकाल में भी शुद्धि के लिए तुलसी के पत्तियों का इस्‍तेमाल किया जाता है. चूंकि ग्रहणकाल को अशुभ समय माना जाता है इसलिए ज्योतिषशास्त्र की मानें तो चंद्रग्रहण के दौरान कई तरह से तुलसी का प्रयोग करके ग्रहण के दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है.

Lunar Eclipse: क्या होता है सूतक ? चंद्र ग्रहण में क्या है इसकी पाबंदियां और प्रभाव

शुद्धि करने के लिए किया जाता है प्रयोग

ऐसा माना जाता है कि तुलसी की पूजा करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है. ग्रहण चाहे सूर्य हो या चंद्र दोनों ही अशुभकाल माने जाते हैं. हिंदू मान्यता के अनुसार चंद्रग्रहण के दौरान धरती पर बुरी शक्तियों का प्रभाव बढ़ जाता है इसलिए ग्रहणकाल के समय तुलसी का प्रयोग घर की शुद्धि करने में किया जाता है. वहीं, मान्यता है कि तुलसी होने से ग्रहण के बाद आई सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है.

नेगेटिव ऊर्जा को करता है खत्म

ज्योतिष के मुताबिक तुलसी में पारा होता है. पारा के ऊपर किरणों का कोई असर नहीं होता. चंद्र ग्रहण के समय पराबैंगनी किरणों का सबसे ज्यादा असर पड़ता है, इसलिए खाने में तुलसी का पत्ता रखने से वह निष्क्रिय हो जाता है, वहीं धार्मिक दृष्टि से देखें तो तुलसी दोषों का नाश करने वाली होती है इसलिए नेगेटिव ऊर्जा खत्म करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है.

Lunar Eclipse: आज दुनिया देखेगी सदी का सबसे लंब चंद्र ग्रहण, जानिए क्या है अवधि

अन्य खबरें