निर्देशक सुभाष घई ने बॉलिवुड में वंशवाद के सवाल पर कह डाली ये बात

Smart News Team, Last updated: 08/12/2020 08:53 PM IST
  • निर्देशक सुभाष घई ने वंशवाद के विषय पर उठ रहे सवाल पर अपना बयान दिया है. सुभाष घई ने ये भी बताया कि कैसे अब भारत का सिनेमा क्या क्या प्रदर्शन कर रहा है ओर कहा तक अब चीजें बदल चुकी है.
सुभाष घई का खुलासा

बॉलीवुड में वंशवाद एक बहुत ही बड़ा ओर कॉमन सा मुद्दा है. अकसर लोग इस बारे में बात करते ही रहते है. स्टार किड्स के करियर को लेकर जब भी बात होती है. तब यही कहा जाता है कि स्टार किड्स को कोई इतनी महनत नहीं करनी पड़ती है. जितनी कि एक अन्य लोगो को करनी पड़ती है. ये बात काफी हद तक सही भी है. अब वंशवाद के आरोपों पर निर्माता - निर्देशक सुभाष घई ने अपनी राय दी है.

 सुभाष घई कहते है की बीते कुछ समय से बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धा बढ रही है. उनका ये भी कहना है कि हर एक फिल्म बनाने के लिए बहुत कठिन प्रयास करने पड़ते है. सुभाष घई कहते है की आज कि स्तिथि में उनके हिसाब से अब वंशवाद और भाई - भतीजावाद भी खत्म हुआ ही है. सुभाष घई का ये भी मानना है कि अब वंशवाद कि जगह मेरिट के सिस्टम ने ली है. जिसकी वजह से अब सिर्फ प्रतिभाशाली व्यक्ति को उसके मुताबिक ही रोल दे रहे है.

सास शर्मिला टैगोर की फोटो शेयर कर करीना कपूर ने लिखा ऐसा मैसेज

सुभाष घई का ये भी कहना है कि बीते दिनों से इंडस्ट्री भी बदल चुकी है. अब भारत का सिनेमा देश कि हर अच्छी चीजों को दर्शाता है. भारत का सिनेमा हमारे इतिहास कि कहानियों, विरासतों, संस्कृति और मिथकीय कहानियों को सुनाता है. यह भारत का सिनेमा प्यार, पारिवारिक मूल्यों, दयालुता ओर साहस कि सीख भी सभी को देता है.

अन्य खबरें