कंगना रनौत के खिलाफ FIR दर्ज, किसानों के प्रदर्शन पर टिप्पणी करना पड़ा महंगा

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Oct 2020, 5:47 PM IST
  • बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत हर मुद्दे पर काफी बेबाकी से अपनी राय रखती हैं. ऐसे में कभी उन्हें लोगों का समर्थन मिलता है तो कभी वो खुद मुसीबत में फंस जाती हैं. इस बार कंगना रनौत के लिए किसान आंदोलन पर कमेंट करना काफी महंगा साबित हो रहा है.
कंगना रनौत फोटो साभार-हिंदुस्तान

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने हाल ही में कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसानों के प्रदर्शन को लेकर सोशल मीडिया पर कमेंट की थी. दरअसल कंगना ने उन लोगों की आलोचना की थी जो कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं. अब कंगना रनौत के बयान पर हंगामा हो चुका है, ऐसे में एक्ट्रेस के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश कर्नाटक के टुमकुरु जिले की एक अदालत ने दी है. वहीं पुलिस ने सोमवार को कोर्ट की तरफ से आदेश आने के बाद एफआईआर दर्ज कर लिया है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कंगना रनौत के खिलाफ वकील एल रमेश नाइक ने शिकायत दर्ज करवाई थी. 

इसी कारण से क्याथासांद्रा पुलिस स्टेशन को ज्यूटिशियल मजिस्ट्रेट फर्ट क्लास ने कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए आदेश दे दिए थे. दरअसल कोर्ट के अनुसार सीआरपीसी की धारा 155(3) के तहत शिकायतकर्ता ने आवेदन देकर जांच की मांग की है. क्याथासांद्र से ही एल. रमेश नाइक भी आते हैं. उन्होंने पीटीआई से बात करते हुए कहा कि कंगना के खिलाफ कोर्ट ने अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले पुलिस स्टेशन से कहा कि एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू करें. 

रिया के समर्थन में उतरे रितेश देशमुख, कहा- सच से ज्यादा शक्तिशाली कुछ भी नहीं

आपको बता दें कंगना रनौत ने संसद में कृषि विधेक पास होने के बाद उसकी आलोचना करने वालो को दुखी इंसान कह दिया. साथ ही इसकी तुलना कंगना ने सीएए प्रोटेस्ट से भी की थी. कंगना रनौत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर लिखा था- पीएम जी कोई अगर सो रहा हो तो उसे जगाया जा सकता है. अगर किसी को गलतफहमी हो तो उसे समझाया जा सकता है. मगर कोई सोने की एक्टिंग करे, या फिर नासमझने की एक्टिंग करता है तो उसको समझाने से फर्क ही क्या पड़ेगा.

काजल अग्रवाल ने गौतम किचलू संग की सगाई, सोशल मीडिया पर फोटो वायरल

अन्य खबरें