बॉलीवुड के पॉपुलर खान पर नसीरुद्दीन शाह बोले- मैं बोलता हूं क्योंकि खोने को बहुत कुछ नहीं

Smart News Team, Last updated: Wed, 15th Sep 2021, 5:50 PM IST
  • बॉलीवुड सुपरस्टार आमिर खान और शाहरुख खान की देश के चर्चित और विवादित मसलों पर चुप्पी को लेकर अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा है कि उनके पास खोने को बहुत कुछ है जबकि वो बोल सकते हैं क्योंकि उनके पास गंवाने को बहुत कुछ नहीं है.
बॉलीवुड के पॉपुलर खान पर नसीरुद्दीन शाह बोले- मैं बोलता हूं क्योंकि खोने को बहुत कुछ नहीं

बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा है कि वो देश के मसलों पर बेबाकी के साथ खुलकर बोल सकते हैं क्योंकि उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ नहीं है. उन्होंने कहा कि बॉलीवुड के बड़े स्टार्स आमिर खान या शाहरुख खान को अपनी क्षमता पर और भरोसा होना चाहिए था, वो क्या ही खो देंगे, एक-दो विज्ञापन, लेकिन ऐसा नहीं है, वो परेशान किए जाएंगे जिसे झेलना उनको मुश्किल लगता होगा. शाह ने कहा कि वो समझते हैं कि बॉलीवुड के खान लोग अपना विचार सामने क्यों नहीं रखते जबकि वो रख सकते हैं क्योंकि उनके पास गंवाने को बहुत कुछ नहीं है. एक-एक बात बोलकर खामोश हो गए आमिर और शाहरुख को देखकर यही लगता है.

अंग्रेजी समाचार चैनल इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में शाह ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री के पास इतनी ताकत है कि वो आजाद रह सके और इंड्स्ट्री के लोग ऐसा करने का साहस दिखाते लेकिन वो झुक रहे हैं क्योंकि उनका काम बहुत ज्यादा और काफी फैला हुआ है, उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ है और वो आसानी से निशाना बन सकते हैं. बढ़ते दक्षिणपंथी कट्टरता पर अगाह करते हुए शाह ने कहा कि तालिबान पर उनके बयान को गलत तरीके से लिया गया जबकि उन्होंने सिर्फ उन भारतीय मुसलमानों का विरोध किया था जो तालिबान के कब्जे पर खुशी जाहिर कर रहे थे.

मोहब्बतें गर्ल प्रीति झिंगयानी ने ठुकराया बिग बॉस-15 का ऑफर, बताई ये वजह

शाह ने अफगानिस्तान में तालिबानी कब्जे के बाद एक वीडियो जारी करके कुछ बातें कही थी जिस पर विवाद होने के बाद वो सफाई में इंटरव्यू पर इंटरव्यू दे रहे हैं. उन्होंने भारत के तालिबानीकरण जैसी बात को नकारते हुए कहा कि मुसलमानों के खिलाफ नफरत भरे संदेश और हिंसा को बढ़ावा देने वाले बयान से उन्हें चिंता होती है. उन्होंने कहा कि भड़काऊ बयानों से माहौल खराब होता है लेकिन उन्हें पूरा यकीन है कि यहां तालिबान जैसा कुछ होगा.

शाह ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा हिंदुओं को दक्षिणपंथी कट्टरता के खिलाफ सामने आना चाहिए, बोलना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं किसी के निशाने पर नहीं हूं लेकिन अपने बच्चे के भविष्य को लेकर चिंतित हूं. अगर कल को उन्हें भीड़ घेर ले और उनका धर्म पूछे तो उनके पास कोई जवाब नहीं होगा क्योंकि उनकी परवरिश ऐसी हुई नहीं है.

करीना-दीपिका का पत्ता साफ,कंगना रनौत के हाथ लगा ‘सीता’ का रोल, बोलीं-जय सिया राम

अन्य खबरें