IPL में क्रिकेट सुपरस्टार्स की बीवियां वॉशरूम में कोकीन खींचती हैं-शर्लिन चोपड़ा

Smart News Team, Last updated: Thu, 24th Sep 2020, 2:01 PM IST
  • शर्लिन चोपड़ा ने टीवी चैनल एबीपी को इंटरव्यू के दौरान बताया कि आईपीएल मैच के बाद पार्टी में क्रिकेट सुपरस्टार्स की बीवियां वॉशरूप में कोकीन खींचती हैं. इसी के साथ अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में उन्होनें दीपिका पादुकोण के डिप्रेशन स्लोगन्स पर भी निशाना साधा है. 
IPL में क्रिकेट सुपरस्टार्स की बीवियां वॉशरूम में कोकीन खींचती हैं-शर्लिन चोपड़ा

शर्लिन चोपड़ा ने बॉलीवुड एक्ट्रेस से लेकर क्रिकेटर्स की पत्नियों पर निशाना साधते हुए कहा है कि आईपीएल की पार्टिज में खिलाड़ियों की पत्नियां कोकीन लेती हैं. एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा ने ABP को एक इंटरव्यू में कहा था कि स्टार क्रिकेटर्स की बीवियां भी ड्रग्स लेती हैं. एबीपी न्यूज से बातचीत में शर्लिन चोपड़ा ने बताया था कि मैं आईपीएल के दौरान कोलकाता गई थी, केकेआर का मैच देखने के लिए और मैच के बाद पार्टी में मैं डांस के बाद जब फ्रेश होने के लिए वॉशरूम में गई तो वहां हमारे क्रिकेट सुपरस्टार्स की बीवियां सफेद पाउडर यानी कोकीन स्नॉट कर रही थीं. हालांकि इसमें शर्लिन ने किसी का नाम नहीं लिया है.

शर्लिन चोपड़ा ने दीपिका पादुकोण पर अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए निशाना साधा है. जिसमें शर्लिन ने दीपिका पादुकोण के तनाव वाले स्लोगन को लेकर उनपर तंज कसा. शर्लिन ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर करके उसमें कहा कि दीपिका को अपना स्लोगन बदल लेना चाहिए. उन्होंने फैंस से अपील कर कहा मेरे बाद बोलो- रिपीट आफ्टर मी, डिप्रेशन इज ऐन इलनेस की जगह ड्रग अब्यूज लीड टु डिप्रेशन.

उन्होंने दीपिका का नाम लेते हुए कहा है कि सेलेब्रिटी का नाम ड्रग्स के साथ आता है तो अफसोस होता है. उन्होंने कहा बॉलीवुड और ड्रग का गहरा नाता रहा है. उन्होंने कहा कि कई साल पहले वो टॉल्क शो पर डांस परफॉर्मेंस करने गई तो दीपिका ने उनके हॉट डांस पर डर्टी लुक्स दिए जिससे उन्हें लगा कि आदर्श भारतीय नारी को ऐसा डांस नहीं करना चाहिए. लेकिन बाद में उन्होंने दीपिका को ऐसा डांस करते देखा. 

बॉलीवुड पर NCB का शिकंजा, ड्रग्स केस में दीपिका, श्रद्धा और सारा अली खान को समन

उन्होंने कहा कि दीपिका को अपना स्लोगन बदल लेना चाहिए. उन्होंने कहा दीपिका जिस डिप्रेशन की बात कर रही हैं क्या उसे ड्रग अब्यूज मान सकते हैं. उन्होंने कहा ग्लोबल रिसर्च कहता है कि 90 प्रतिशन डिप्रेशन के मामले ड्रग्स लेने की वजह से होते हैं. इसी के आधार पर दीपिका को स्लोगन अपडेट करना चाहिए. नया स्लोगन रिपीट आफ्टर मी, ड्रग अब्यूज लीड टु डिप्रेशन होना चाहिए.

अन्य खबरें