मानवता शर्मसार: स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से कैंसर पीड़ित के शव के अंग खा गए जानवर

ABHINAV AZAD, Last updated: Sun, 5th Dec 2021, 1:18 PM IST
  • राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तक मामला पहुंचने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने स्वास्थ्य विभाग पर दो लाख रूपए का जुर्माना लगाया है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

गोरखपुर. स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का अजीब मामला सामने आया है. दरअसल, स्वास्थ्य विभाग इतना लापरवाह हो गया है कि कैंसर पीड़ित बुजुर्ग बंदी के शव के अंग जानवर खा गए. अब यह मामला राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तक पहुंच गया है. राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तक इस मामले के पहुंचने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. अब आयोग ने स्वास्थ्य विभाग पर दो लाख का जुर्माना लगाया है. स्वास्थ्य विभाग को दो लाख रूपए मृतक के वारिसों को देना होगा.

इस पूरे मामले पर स्वास्थ्य विभाग ने तीन सदस्यीय टीम बनाई है. स्वास्थ्य विभाग की इस टीम ने अपनी रिपोर्ट दे दी है. अब इस रिपोर्ट को सरकार के पास भेजा जाएगा. मिली जानकारी के मुताबिक, कैंसर पीड़ित बुजुर्ग बंदी का नाम मोहम्मद वसील है. उसकी उम्र तकरीबन 70 साल है और वह संतकबीरनगर जिले के रहने वाले हैं. मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि विभाग की लापरवाही के कारण बुजुर्ग का शव दो दिन तक मर्चरी में पड़ा रहा. इस दौरान शव के अंगों को किसी जानवर ने खा लिया.

गोरखपुर में 7 दिसंबर को 9600 करोड़ की खाद उर्वरक और एम्स परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे PM मोदी

जिसके बाद परिजनों ने मामले की शिकायत राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की. राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अपनी जांच में परिजनों की आरोप को सही पाया. इस पूरे मामले पर आयोग का कहना है कि मामला दुखद और चौंकाने वाला है. मृतक के शव को गरिमा व उचित सम्मान नहीं दिया गया. इस मामले में मानवाधिकार का उल्लंघन हुआ है. इस मामले में आयोग ने स्वास्थ्य विभाग पर दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया है तो शासन ने विभाग से रिपोर्ट तलब की है. बताते चलें कि कैंसर पीड़ित बुजुर्ग बंदी के शव के अंग जानवर खा गए. अब यह मामला राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तक पहुंच गया है. राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग तक इस मामले के पहुंचने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. अब आयोग ने स्वास्थ्य विभाग पर दो लाख का जुर्माना लगाया है.

अन्य खबरें