CM योगी बोले- आर्य-द्रविड़ बहस गलत, पूरे देश का DNA एक इसलिए भारत एक

Ankul Kaushik, Last updated: Sun, 19th Sep 2021, 8:48 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को गोरखपुर में युगपुरुष ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ की 52वीं व राष्ट्रसंत ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की 7वीं पुण्यतिथि के समारोह में पहुंचे. यहां पर सीएम योगी ने कहा कि नई थ्योरी से पता चला है कि पूरे देश का डीएनए एक है और भारत भी एक है.
भारत का DNA एक इसलिए पूरा भारत एक- सीएम योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर. युगपुरुष ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ की 52वीं व राष्ट्रसंत ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की 7वीं पुण्यतिथि के समारोह का आयोजन गोरखपुर में हुआ. इस समारोह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होने के लिए पहुंचे. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि नई थ्योरी से पता चला है कि पूरे देशा का देश का डीएनए एक है और भारत भी एक है. देश में च इसके साथ ही सीएम ने कहा कि हर भारतीय को अपने अपने पवित्र ग्रंथों वेद, पुराण, उपनिषद, रामायण, महाभारत आदि की जानकारी है. इन वेदों से जानकारी लेकर ही हर भारतीय आगे बढ़ता है. इसके साथ ही सीएम ने कहा कि आज दुनिया की तमाम जातियां अपने मूल में ही समाप्त होती गई हैं वहीं भारत में जातियां फलफूल रही हैं. भारत ने पूरी दुनिया को वसुधैव कुटुंबकम का भाव दिया है और इसलिए भारत देश श्रेष्ठ है.

वहीं सीएम योगी ने आर्यों के भारत से बाहर आने पर कहा कि आर्य भी भारत का हिस्सा हैं. क्योंकि रामायण में माता सीता ने भी प्रभु श्री राम को आर्य पुत्र कहा है. हालांकि कुटिल अग्रेंजों ने वामपंथी इतिहासकारों की मदद से इतिहास की पुस्तकों में यह पढ़वाया है कि आर्य बाहर से आए हैं. इसके साथ ही अगर आप किसी वेद, पुराण या हमारे अन्य ग्रंथ में यह नहीं देख सकते हैं कि जिसमें लिखा हो कि हम बाहर से आए हैं. सीएम योगी ने कहा ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ व ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ ने राष्ट्र, धर्म व लोक कल्याण के लिए पूरा जीवन समर्पित कर दिया.

देश में संकट आते ही एक्सीडेंटल हिंदू भाग जाते हैं इटली: CM योगी आदित्यनाथ

भारत को लेकर इतिहास के कई काले अध्याय हैं और इसका परिणाम देश लंबे समय से भुगतता रहा है. इसलिए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक भारत-श्रेष्ठ भारत का आह्वान किया है. आज पीएम मोदी के नेतृत्व में ही आयोध्या में पांच सौ वर्ष पुराने विवाद का समाधान हुआ है. वहीं पहले आए दिन चीन हमारी सीमाओं पर अतिक्रमण करता था लेकिन हम मौन रहते थे. हालांकि अब पूरा विश्व जानता है कि हमने डोकलाम में चीन को करारा जवाब दिया है.

अन्य खबरें