CM योगी ने खत्म किया सस्पेंस, बताया किस सीट से लड़ेंगे यूपी विधानसभा चुनाव

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 6th Nov 2021, 4:40 PM IST
  • यूपी विधानसभा में सीएम योगी के लड़ने को लेकर काफी समय से चल रहे सस्पेंस पर खुद सीएम योगी ने विराम लगा दिया है. सीएम योगी ने चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि पार्टी जहां से कहेगी, वह वहां से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. इसके लिए पार्टी का संसदीय बोर्ड है, वो निर्णय लेगा. मैंने हमेशा चुनाव लड़ा है.
CM योगी के चुनाव लड़ने पर खत्म सस्पेंस, आदित्यनाथ ने दिया ये जवाब

गोरखपुर. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में काफी समय से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खुद चुनाव में उतरने को लेकर ऊहापोह की स्थिति बनी हुई थी. जिस पर चुप्पी तोड़ते हुए पहली बार सीएम योगी ने चुनाव मैदान में उतरने को लेकर कहा कि पार्टी जहां से कहेगी, वो वहां से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी का इस बयान के बाद से प्रदेश सीएम योगी के चुनाव लड़ने को लेकर चर्चा तेज हो गई है. वहीं, सीएम योगी ने इस दौरान सरकार की योजनाओं के बारे में भी बात की.

चुनाव लड़ाने का फैसला पार्टी बोर्ड का

सीएम योगी ने चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि पार्टी जहां से कहेगी, वे वहां से वे विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. इसके लिए पार्टी का संसदीय बोर्ड है, किसे कहां से चुनाव लड़ना है, इसका निर्णय उसी बोर्ड में ही होता है. मैंने हमेशा चुनाव लड़ा है.

CM योगी का बड़ा फैसला, 1 करोड़ 80 लाख छात्रों के अकाउंट में आएंगे 11-11 सौ रूपये

सीएम के साथ डिप्टी सीएम भी लड़ सकते चुनाव

सीएम योगी अभी वर्तमान में यूपी विधान परिषद के सदस्य हैं. सीएम योगी के साथ इस बार माना जा रहा है कि उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा भी विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. वो दोनों ने डिप्टी सीएम बनने के बाद विधान परिषद के सदस्य बने थे.

पिछले सालों में राज्यों को मिली नई पहचान

सीएम योगी ने कहा कि पिछली सरकार में राज्य को पहचान का संकट रहता था, लेकिन अब राज्य को नई पहचान मिली है. साढ़े 4 साल में राज्य में दिवाली समेत सभी त्योहार शांतिपूर्वक संपन्न हुए हैं. अयोध्या में आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम ने वैश्विक स्तर पर अपनी नई पहचान बनाई है. कुंभ का इस बार जिस स्तर पर आयोजन हुआ. ऐसा आयोजन इससे पहले कभी नहीं हुआ.

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को सपा-सुभासपा का साथ, ओम प्रकाश राजभर ने किया ऐलान

इससे पहले अखिलेश कर चुके हैं चुनाव से इंकार

सीएम योगी के इस बयान से पहले समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव खुद के चुनाव लड़ने से माना कर चुके हैं. वहीं, ऐसे में योगी आदित्यनाथ का चुनाव लड़ने का फैसला पार्टी की सोची समझी रणनीति माना जा रहा है. हालांकि अखिलेश ने इससे पहले भी विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ा है. वो 2012 में जब मुख्यमंत्री बने थे, तो उन्हें विधान परिषद के सदस्य के रूप में सदस्यता लेनी पड़ी थी.

 

अन्य खबरें