इंदौर: डेली कलेक्शन कर्मियों से 1.55 लाख रुपए की लूट, एक को चाकू गोदकर किया घायल

Smart News Team, Last updated: Thu, 4th Mar 2021, 1:49 PM IST
  • इंदौर में डेली कलेक्शन कर लौट रहे दो युवकों के साथ बदमाशों ने लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया है. मामला खजराना थाना क्षेत्र के मनसब नगर से सामने आया है. बदमाशों ने जहां युवकों से लाखों की लूट की वहीं एक युवक को चाकू मारकर घायल भी कर दिया.
सांकेतिक तस्वीर

इंदौर. इंदौर के खजराना थाना क्षेत्र के मनसब नगर में दो युवकों के साथ लूट का मामला सामने आया है. दोनों युवक डेली कलेक्शन कर लौट रहे थे, इसी बीच दो बाइक सवार बदमाशों ने चाकू के बल पर युवकों के साथ करीब डेढ़ लाख रुपये से ज्यादा की लूटपाट को अंजाम दिया. लूट के साथ-साथ बदमाशों ने एक डेली कलेक्शन कर्मी को चाकू से गोदकर घायल भी कर दिया. बताया जा रहा है कि बदमाश डेली कलेक्शन कर्मियों का बैग छीनकर भाग गए थे. वहीं, मामले को लेकर पुलिस भी आरोपियों की तलाश में लगी हुई है.

मामले के बारे में बात करते हुए खजराना TI दिनेश वर्मा ने बताया कि बीते बुधवार की देर शाम को थाने पर बॉम्बे हॉस्पिटल से सूचना मिली थी कि हॉस्पिटल में 25 वर्षीय देवराज जख्मी है, जबकि उसका साथी गोविंद बाल-बाल बच गया है. घायलों ने पुलिस को दिये बयान में बताया कि वह स्पंदना स्पूर्ति फाइनेंस लिमिटेड आंचल नगर स्कीम नंबर 140 में कलेक्शन का काम करता है. ऐसे में वह अपने साथी गोविंद की बाइक MP-41- MR 2739 के साथ डेली कलेक्शन का रुपया लेते लौट रहे थे. कर्मियों के मुताबिक एक कलेक्शन पाइंट से उन्होंने लोन के 9000 रुपये लिये और बैग में रखे.

पत्नी के भाई ने की शख्स की चौराहे पर चाकू मारकर हत्या, बहाने से बुलाया था घर

कर्मियों के बयान के मुताबिक बैग देवराज की गोद में रखा था. वे दोनों जैसे ही थोड़ी दूर पर टर्न हुए, वहां आगे 2 बदमाश खड़े हुए थे. उनके हाथ में चाकू था. आगे बढ़ते ही बदमाशों ने देवराज से बैग छीनना शुरू कर दिया. इस दौरान कलेक्शन कर्मियों की बाइक नीचे गिर पड़ी, लेकिन देवराज ने बैग नहीं छोड़ा. तभी बदमाशों ने देवराज के दोनों जांघों पर चाकू मारा, जिससे वह जख्मी हो गया. बताया जा रहा है कि हमला होता देख देवराज का साथी गोविंद वहां से भाग गया, वहीं, दूसरी तरफ बदमाशों ने भी देवराज का बैग छीन लिया और वहां से फरार हो गए. बैग में करीब 1.55 लाख रुपए और मेंबरों के लोन के कागज रखे थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें