इंदौर: एक ही दिन में 207 सेंटर्स पर रिकार्ड 36 हजार लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

Smart News Team, Last updated: Sat, 29th May 2021, 10:58 AM IST
मध्यप्रदेश के इंदौर में एक ही दिन 36001 रिकॉर्ड वैक्सीन लगाई गई. कोरोना वैक्सीन के प्रति देश के कई हिस्सों में अविश्वास के चलते टीकाकरण की मुहिम की गति धीमी हो रही थी, लेकिन पिछले कुछ दिनों से इसने फिर रफ़्तार पकड़ ली है .
इंदौर में वैक्सीनेशन ने पकड़ी रफ़्तार (प्रतिकात्मक तस्वीर) .

इंदौर. मध्यप्रदेश में कोरोना के हॉट स्पॉट बने इंदौर में जहां पहले रिकॉर्ड संक्रमित मरीज मिलते थे वही अब रिकार्ड वैक्सीनेशन के आंकड़े सामने आ रहे है. दरअसल, वैक्सीनेशन की गति धीमी रहने की एक बड़ी वजह लोलोगों का वैक्सीन पर विश्वास नही होना मानी जा रही था, लेकिन अब परिस्थितियां बदल रही है और उसी के परिणाम सकारात्मक तौर पर सामने आ रहे हैं.

 

शुक्रवार को तो इंदौर में 36001 लोगो को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई. बता दे कि इस समय शहर में कुल 207 वैक्सीनेशन सेंटर्स पर टीके लगाएजा रहे है. वहीं बीते रविवार को इंदौर में एक दिन में 26 हजार टीके लगाने का रिकॉर्ड बना था जो 5 दिन में ही टूट गया. बता दे की सर्वाधिक टीकाकरण 18 से 44 आयु वर्ग के नागरिक समूह में किया गया.

इंदौर: स्टॉफ नर्स की नियुक्ति को लेकर बवाल, अभ्यर्थियों ने डीन को सौंपा ज्ञापन


शुक्रवार शाम तक 18 से 44 आयु वर्ग के 32 हजार 363 लोगो को वैक्सीन की पहली डोज दी गई. वही 45 वर्ष से 60 वर्ष आयु वर्ग के समूह मे वैक्सीन 1999 लोगो को फर्स्ट डोज तो 743 लोगों को टीके की दूसरी डोज दी गई. इसके अलावा 60 वर्ष से अधिक उम्र के 393 वरिष्ठ नागरिकों को पहली डोज और 229 वरिष्ठ लोगो को डोज लगाई गई.

इंदौर में कोरोना के बाद ब्रेन फॉग का मामला आया सामने, जानें क्या है लक्षण

इधर, शुक्रवार को 33 हेल्थ केयर वर्करों को पहली और 22 हेल्थ केयर वर्करों को दूसरी डोज लगाई गई. इसके अलावा फ्रंट लाइन वर्करों में 193 फ्रंट लाइन वर्कर्स को फर्स्ट तो भी 26 फ्रंट लाइन वर्कर्स टीके की दूसरी डोज दी.

एक ही दिन में रिकॉर्ड 36 हजार लोगो को वैक्सीन लगाना ये साफ कर रहा है की लोगों में जागरूकता के साथ ही वैक्सीन पर भरोसा बढ़ा है, वही प्रशासन भी टीकाकरण को एक बड़े टारगेट के तौर पर अमल में ला रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें