आकाश विजयवर्गीय ने कहा- ममता बनर्जी की सहानुभूति बांग्लादेशी घुसपैठियों के साथ

Smart News Team, Last updated: 12/12/2020 10:59 AM IST
  • आकाश ने कहा- ममता जी और उनके साथी नहीं चाहते हैं कि देश में शांति हो. उनकी सहानुभूति तो बांग्लादेशी घुसपैठियों के साथ ज्यादा लगती है. टीएमसी के गुंडों की यह बौखलाहट है. वहां की पुलिस भी मूकदर्शक बनी है. यह अराजकता बता रही है कि पश्चिम बंगाल में कमल खिलने वाला है.
इंदौर के क्षेत्र क्रमांत तीन के विधायक आकाश विजयवर्गीय

इंदौर. पश्चिम बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर हुए हमले के बाद इंदौर के क्षेत्र क्रमांक 3 के विधायक एवं कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष महोदय की कार तो फिर भी बुलेट प्रूफ थी, लेकिन कैलाश जी की कार में तो पत्थर अंदर तक चले आए. जब इस स्तर के नेताओं पर इस कदर हमले हो सकते हैं तो फिर पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं का क्या हाल होता होगा. मुझे उनकी बहादुरी पर फख्र है.

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए आकाश ने कहा कि यह घटना अत्यंत निंदनीय है. माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भाजपा का हर कार्यकर्ता पूरे देश मे राष्ट्रवाद की लहर कोने कोने तक ले जा रहा है ताकि देश में सुख, समृद्धि व शांति हो, मगर ममता जी और उनके साथी नहीं चाहते हैं कि देश में शांति हो. उनकी सहानुभूति तो बांग्लादेशी घुसपैठियों के साथ ज्यादा लगती है. टीएमसी के गुंडों की यह बौखलाहट है. वहां की पुलिस भी मूकदर्शक बनी देख रही है. यह अराजकता बता रही है कि पश्चिम बंगाल में कमल खिलने वाला है. ममता बनर्जी को जनता इस हमले का जवाब देगी. 

इंदौर : युवक को पहले ट्रक ने मारी टक्कर फिर कार रौंदते हुए निकल गई

बंगाल के बीजेपी के कार्यकर्ताओं को उनके हौसले के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं. बंगाल के कार्यकर्ताओं को कहना चाहता हूं कि पूरा देश आपके साथ है. आप लड़ते रहें, जरूरत पड़ी तो पूरे देश से राष्ट्रवादियों को टोली बंगाल आएगी. आपके समर्थन में हम सब आपके साथ हैं. साथ ही राष्ट्रपति से भी निवेदन है कि बंगाल में अगर निष्पक्ष चुनाव कराना है, तो वहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाए।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें