कलेक्टर के खिलाफ इंदौर के सभी 300 पटवारियों ने किया विरोध प्रदर्शन

Smart News Team, Last updated: Tue, 29th Dec 2020, 4:02 PM IST
  • इंदौर जिले के सभी 300 पटवारियों ने कलेक्टर कार्यालय के बाहर सरकार एवं कलेक्टर के खिलाफ प्रदर्शन किया।
कलेक्टर के खिलाफ पटवारियों का विरोध प्रदर्शन

इंदौर। इंदौर पटवारी संघ के अध्यक्ष अशोक बाजपेई ने बताया कि, हमने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर इंदौर कलेक्टर कार्यालय पर प्रदर्शन किया है। वहीं, प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष पटवारी संघ ने मांग रखी कि, उन्हें मुआवजा पत्रक भरने के लिए समय दिया जाए। साथ ही साथ कृषकों के दस्तावेज जांचने और उन पर कार्य करने के लिए पटवारियों को लैपटॉप और मोबाइल जैसे संसाधन उपलब्ध करवाये जाए ताकि सही तरीके से हो सके और कार्य जल्द करवाने के लिए उन्हें प्रशिक्षण भी दिया जाए।

पटवारी संघ का कहना है कि यदि पटवारियों की मांगे पूरी नहीं की गई तो वह भविष्य में और बड़ा आंदोलन करेंगे। बाजपेई के मुताबिक, काम में लापरवाही के चलते 2 पटवारियों को निलंबित कर दिया गया था। जबकि संसाधनों की कमी और बिना प्रशिक्षण के काम करने के चलते हमसे गलतियां हो सकती है।

धांधली: बिजली चोरी के फर्ज़ी केस बनाने के मामले में हुए कई ख़ुलासे

गौरतलब है कि, इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने एक दिन पहले ही देपालपुर के पटवारी को किसानों के नष्ट हो चुकी कृषि के मुआवजे प्रक्रिया में देरी बरतने के मामले में निलंबित कर दिया था। इसी के फलस्वरूप पूरे इंदौर के 300 पटवारी अपने संघ के तहत कलेक्टर कार्यालय के समक्ष अपनी बात रख कर विरोध प्रदर्शन करने के लिए खड़े हुए थे।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें