भारत बंद : इंदौर किसान मंडी छावनी में तब्दील, एडिशनल एसपी व अपर कलक्टर भी मौजूद

Smart News Team, Last updated: 08/12/2020 02:07 PM IST
  • भारत बंद के मद्देनजर इंदौर के किसान मंडी में भारी पुलिस बल के साथ एडिशनल एसपी और अपर कलक्टर आदि उच्च अधिकारी तैनात हैं. राजनीतिक बवाल की आशंका के बीच मंडी में ज्यादातर दुकानें बंद हैं और छुटपुट कामकाज जारी है. किसान भी एहतिहात के तौर पर अपना माल लेकर मंडी नहीं पहुंचे.
इंदौर किसान मंडी में तैनात पुलिस

इंदौर. भारत बंद को देखते हुए मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर की किसान मंडी को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया है. भारी पुलिस बल के साथ एडिशनल एसपी और अपर कलक्टर आदि उच्च अधिकारी भी किसी भी अप्रिय घटना से तुरंत निपटने के लिए स्वयं मंडी में तैनात हैं. मंडी को बंद करवाने के लिए कांग्रेस महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी छावनी मंडी पहुंचने की घोषणा की है. 

राजनीतिक बवाल की आशंका के बीच मंडी में ज्यादातर दुकानें बंद हैं और छुटपुट कामकाज जारी है. किसान भी एहतिहात के तौर पर अपना माल लेकर मंडी नहीं पहुंचे. कांग्रेस नेताओं ने सुबह नौ बजे से मंडी में आंदोलन और धरने का ऐलान किया था. इस बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं का एक समूह इंदौर के अग्रसेन चौराहे पर नारेबाजी करता रहा. हालांकि इस दौरान किसानों का कोई संगठन विरोध स्वरूप इस आंदोलन में भाग लेता हुआ नहीं दिखा. 

इंदौर में पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन

गौरतलब है कि किसान पिछले कई दिनों से केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ धरना प्रदर्शन एवं आंदोलन कर रहे हैं. केंद्र सरकार से बातचीत करने के लिए उन्होंने दिल्ली भी कूच किया. सरकार से उनकी बात असफल होने के बाद उन्होंने 8 दिसंबर मंगलवार को देशव्यापी बंद का आह्वान किया है, जिसका कांग्रेस पार्टी ने खुलकर समर्थन किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें