इंदौर में कॉल सेंटर कर्मी ने लगाई फांसी, मां का रो-रोकर हुआ बुरा हाल

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Feb 2021, 2:26 PM IST
  • इंदौर में एक कॉल सेंटर कर्मचारी द्वारा फांसी लगाकर जान देने का मामला सामने आया है. उसकी उम्र करीब 31 वर्ष है, जो बीते तीन सालों से इंदौर में किराये पर रह रहा था.
इंदौर में कॉल सेंटर कर्मी ने लगाई फांसी, मां का रो-रोकर हुआ बुरा हाल (पप्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर में एक कॉल सेंटर कर्मचारी द्वारा फांसी लगाकर जान देने का मामला सामने आया है. कॉल सेंटरकर्मी की उम्र करीब 31 वर्ष बताई जा रही है, जो बीते तीन सालों से लगातार इंदौर में किराये पर रहता था. पुलिस को युवक के पास से कोई सुसाइड नोट भी नहीं प्राप्त हुआ है. वहीं, मां के मुताबिक युवक से रात को उनकी बात हुई थी, जिसमें युवक ने बताया कि उसकी नाइट शिफ्ट चल रही है, जिसके कारण वह सो रहा है. युवक के निधन के कारण उसके माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो रखा है.

एमआईजी पुलिस के मुताबिक, मृतक का नाम प्रिंस जारिया है, जो कि इंदौर में एमआईजी कॉलोनी का रहने वाला है. वह टेली परफॉर्मेंस कंपनी में कॉलर के रूप में काम करता था. वहीं, युवक के पिता प्रकाश जारिया फौज से रिटायर होने के बाद करेली (नरसिंहपुर) में बैंक के गार्ड के तौर पर नौकरी करते हैं. प्रिंस की मां ने पूछताछ में बताया कि बीते शाम 6 बजे उससे आखिरी बार बात हुई थी. ऐसे में उसने कहा कि उसकी नाइट शिफ्ट चल रही है, जिससे वह सो रहा है. मां ने बताया कि युवक को अगले दिन भी फोन किया गया, लेकिन उसने नहीं उठाया.

जान बचाने के लिए घर में घुसा युवक, परिवार ने चोर समझ पीटकर किया घायल

बताया जा रहा है कि बेटे की मौत की खबर मिलते ही माता-पिता की हालत काफी खराब हो गई और वह बदहवास हालत में ही इंदौर पहुंचे. उन्होंने जब पोस्टमार्टर भवन में अपने बेटे को स्ट्रेचर पर लेटा देखा तो वह फूट-फूटकर रोने लगे. वहीं, इस बीच मां के मुंह से बार-बार यही निकल रहा था कि मेरे लाल तेरी शादी अच्छे से करती, ये क्या कर लिया तूने. जांच में सामने आया है कि पिता से सप्ताह भर से बात नहीं हुई थी और न ही परिवार के किसी व्यक्ति से उसको कोई परेशानी थी. पुलिस अभी भी मामले को लेकर जांच में लगी हुई है.

चालबाज प्रेमी ने पति से करवाया तलाक, अब महिला का कर रहा उत्पीड़न

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें