सीएम शिवराज का ऐलान- कोरोना काल में एमपी बोर्ड 12वीं इंटर की परीक्षा रद्द

Smart News Team, Last updated: Wed, 2nd Jun 2021, 3:56 PM IST
  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा कि एमपी बोर्ड ने 12वीं के एग्जाम कैंसिल कर दिए हैं. सीबीएसई बोर्ड 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद मध्य प्रदेश बोर्ड ने ये फैसला लिया है. एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षाओं को पहले ही रद्द कर चुका है.
सीबीएसई 12वीं के एग्जाम रद्द होने के बाद एमपी बोर्ड ने इंटर की परीक्षा रद्द की.

इंदौर. सीबीएसई 12वीं बोर्ड के एग्जाम रद्द होने के बाद बुधवार को मध्य प्रदेश की शिवराज चौहान सरकार ने एमपी बोर्ड के 12वीं की परीक्षाओं को कैंसिल करने का फैसला किया है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट्स के अनुसार, सीएम शिवराज चौहान ने कहा कि एमपी बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा को रद्द किया. इससे पहले मध्य प्रदेश के स्कूली शिक्षा राज्य मंत्री इंदर परमार सिंह ने 12वीं की परीक्षाओं के रद्द होने के संकेत दिए थे. 

इंदर परमार सिंह ने कहा था बुधवार को मुख्समंत्री से चर्चा के बाद 12वीं की परीक्षाओं पर फैसला हो सकता है. मंगलवार को सीबीएसई 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद उन्होंने ने ट्वीट करते हुए कहा कि कोविड 19 संक्रमण की वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए भारत सरकार ने सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया है. 

कोरोना काल में CBSE के बाद ICSE बोर्ड ने रद्द की 12वीं इंटर परीक्षा 2021

इससे पहले स्कूली शिक्षा राज्य मंत्री इंदर परमार सिंह ने एक इंटरव्यू में कहा था कि हम पहले बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे. सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा. परिस्थिति सामान्य होने पर की परीक्षाओं को कराने के बारे में सोचा जाएगा. उन्होंने कहा कि संसाधनों की कमी की वजह से ऑनलाइन परीक्षाएं नहीं कराई जा सकती है. सीबीएसई के अलावा आईसीएसई ने भी 12वीं की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है.

PM नरेंद्र मोदी का फैसला- कोरोना काल में CBSE बोर्ड 12वीं इंटर परीक्षा 2021 रद्द

आपको बता दें कि इससे पहले मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं की परीक्षाओं को रद्द कर चुका है. कक्षा 10वीं की नतीजे प्री बोर्ड एग्जाम, यूनिट टेस्ट और इंटरनल असेसमेंट के नंबरों के आधार पर दिया जाएगा. इसके लिए एमपी बोर्ड नोटिफिकेशन जारी कर चुका है. अब मध्य प्रदेश बोर्ड कोरोना काल में होने वाली 12वीं परीक्षाओं को रद्द कर दिया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें