MP में अभी नहीं होगा 18 साल से ज्यादा वालों का कोरोना वैक्सिनेशन, CM शिवराज बोले

Smart News Team, Last updated: 29/04/2021 11:40 PM IST
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भारत बायोटेक और SII दोनों कंपनियों से संपर्क के बाद पता चला है कि हमें 1 मई को वैक्सीन डोज़ उपलब्ध नहीं हो पाएंगी. जिसके चलते 1 मई से 18 साल से ज्यादा आयु के लोगों का टीकाकरण अभियान शुरू नहीं किया जा सकेगा. साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे ही वैक्सीन प्राप्त होगी, टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा.
मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे ही वैक्सीन प्राप्त होगी, टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा.

इंदौर- मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भारत बायोटेक और SII दोनों कंपनियों से संपर्क के बाद पता चला है कि हमें 1 मई को वैक्सीन डोज़ उपलब्ध नहीं हो पाएंगी. जिसके चलते 1 मई से 18 साल से ज्यादा आयु के लोगों का टीकाकरण अभियान शुरू नहीं किया जा सकेगा. साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे ही वैक्सीन प्राप्त होगी, टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा.

देश के साथ-साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों के आंकड़े में लगातार तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की जारी है. इस बीच स्वास्थ्य विभाग ने तय किया है कुल सैंपल में 70 फीसद सैंपल आरटी पीसीआर से जांचें जाएंगे. प्रदेश की सरकारी लैब की क्षमता इतनी नहीं है. लिहाजा, दो निजी लैब से राज्य सरकार में अनुबंध किया है. दोनों में मिलाकर आरटी पीसीआर तकनीक से 20 हजार सैंपल रोज जांचने की क्षमता है.

IIM इंदौर कोरोना मरीजों और पुलिसकर्मियों की ऐसे करेगा मदद, जानें क्या है प्लान

बताते चलें कि हर दिन करीब 10000 सैंपल इन लैब में जांच के लिए भेजे जा रहे हैं. इसके अलावा करीब 18 हजार सैंपल हर दिन रैपिड एंटीजन किट से जांचे जा रहे हैं. आंकडे़ बताते हैं कि हर दिन 6000 से 7000 सैंपल की जांच लंबित रहती है.

पेट्रोल डीजल आज 29 अप्रैल का रेट: भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर में की कीमते नहीं बदली

इंदौर में तैयार प्रदेश का ड्राइव इन कोविड टेस्ट सेंटर, जानिए किस तरह होगी जांच

रेमडेसिविर के नाम पर फ्रॉड, ग्लूकोज का पानी डाल बेच रहे, जानें कैसे पहचानें असली

जूता पहन आरती करते हुए पुजारी फोटो और वीडियो वायरल, मंदिर पंडित ने दी सफाई, जानें मामला

नई गाइडलाइन: कोरोना के मामूली लक्षण हैं तो होम आइसोलेशन में ऐसे करें अपना इलाज

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें