स्कूलों की मनमानी के खिलाफ कलेक्टर के निर्देश, ऑनलाइन कक्षाओं को रखा जाए चालू

Smart News Team, Last updated: Tue, 19th Jan 2021, 2:56 PM IST
  • कोविड 19 की गाइडलाइन का पालन किए जाने की शर्त पर स्कूल खोले गए हैं. कुछ विद्यालयों की ओर से स्टूडेंट्स को स्कूल आने के लिए बाध्य किए जाने की शिकायत आने पर कलेक्टर मनीष सिंह ने निर्देश जारी किए हैं.
A student while Online class

इंदौर. इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने निर्देश दिए हैं कि शिक्षण सत्र 2020-21 के लिए शासकीय /अशासकीय विद्यालयों द्वारा ऑनलाइन कक्षाएं भी चालू रखी जाए. राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग के निर्देश अनुसार विद्यालय को अभिभावकों की सहमति पर तथा कोविड-19 के दिशा निर्देशों के पालन किए जाने की शर्त पर विद्यार्थियों को आमंत्रित कर कक्षा के संचालन हेतु अनुमति दी गई है. 

शिकायत प्राप्त हुई है कि कुछ विद्यालयों के द्वारा उक्त निर्देशों के आधार पर विद्यार्थियों को अध्यापन हेतु विद्यालय में उपस्थित होने हेतु बाध्य किया जा रहा है तथा ऑफलाइन कक्षाएं संचालित कर ऑनलाइन कक्षाएं बंद कर दी गई हैं. जिससे कि जो विद्यार्थी ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से अध्ययन कर रहे थे एवं विद्यालय नहीं आना चाहते हैं, उनका अध्ययन कार्य बाधित हो गया है.

इंदौर: ड्रग आंटी के बेटे के करीबी सहित चार ड्रग पेडलर को पुलिस ने पकड़ा

कलेक्टर मनीष सिंह ने समस्त विद्यालयों को निर्देशित किया है कि मध्यप्रदेश शासन के स्कूल शिक्षा विभाग के निर्देशों का पालन करते हुए विद्यालय में विद्यार्थियों के अध्यापन का कार्य किया जा रहा है, तब भी ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन रोका न जाए. किसी भी स्कूल द्वारा शासन के आदेश का उल्लंघन करते हुए ऑनलाइन क्लास बंद की जाती है या स्कूल आने के लिए बाध्य किया जाता है तो उसकी शिकायत कलेक्टर कार्यालय, जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय या जागृत पालक संघ के समक्ष कर सकते हैं. क्लेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि शिकायत पर कड़ा संज्ञान लिया जाएगा और स्कूलों को इस संबंधी निर्देश जारी कर दिए गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें