इंदौर में कोरोना की वापसी, शादी में 50% तो शवयात्रा में शामिल होंगे इतने लोग

Smart News Team, Last updated: Wed, 24th Feb 2021, 4:58 PM IST
  • कोरोना वायरस के बढ़ते केस के कारण इंदौर में दोबारा सख्ती बढ़ाई जा रही है. इस बात पर कलेक्टर मनीष सिंह ने क्राइसिस मैनेजमेंट की टीम के साथ बैठक कर कई अहम फैसले लिये हैं.
आगरा में बढ़ते जा रहे हैं कोरोना वायरस के मामले

इंदौर: कोरोना वायरस के बढ़ते केस के कारण इंदौर में दोबारा कोरोना प्रोटोकॉल जारी करने पर विचार किया जा रहा है. मामले को कलेक्टर मनीष सिंह ने क्राइसिस मैनेजमेंट की टीम के साथ बैठक भी की है. बैठक के दौरान फैसला लिया गया कि शहर में सभी तरह के बड़े आयोजनों पर भी रोक लगा दी गई है. बताया जा रहा है कि अब किसी बड़े आयोजन के लिए भी लोगों को अनुमति लेने की आवश्यकता है. इसके साथ ही बढ़ते केस को देखते हुए मास्क भी अनिवार्य कर दिया गया है.

मामले को लेकर कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि इंदौर में भी महाराष्ट्र जैसा ट्रेंड दिख रहा है, इसलिए जागरूक रहने और भीड़ वाले बड़े आयोजनों से बचने की जरूरत है. हालांकि ऐसे कोई भी आदेश नहीं करेंगे, जिससे बिजनेस प्रभावित हो. इस बार भी रंगपंचमी पर गेर नहीं होगी. अभी से ही इस संबंध में आयोजकों को सूचना दी जा चुकी है. इसके साथ ही अन्य बड़े आयोजनों को भी मंजूरी नहीं देंगे और बिना मंजूरी किसी भी तरह के आयोजन पर रोक रहेगी. बता दें कि बीते मंगलवार को शहर में 105 नए मरीज मिले.

जेल में बंद युवती ने निगम के इंजीनियर पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

बैठक के दौरान यह भी फैसला लिया गया कि आयोजनों में कोविड प्रोटकॉल का पालन करना काफी जरूरी है. वहीं होटल, मैरिज गार्डन और अन्य आयोनों में प्रोटोकॉल के हिसाब से केवल 50% क्षमता से ही आयोन में लोग शामिल हो पाएंगे. बताया जा रहा है कि लोगों को घर पर भी पार्टियां करने से बचने की सलाह दी गई है, जिससे कहीं भी भीड़ इकट्ठी न हो और सोशल डिस्टेंसिंग का भी भली-भांति पालन हो सके. वहीं, बताया जा रहा है कि शवयात्रा में भी केवल 50 लोग ही शामिल हो पाएंगे.

इंदौर पुलिस ने ड्रग तस्कर के पास से जब्त की 10 लाख की ड्रग्स

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें