नाले में हुई निगम की मीटिंग, सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के दिये निर्देश

Smart News Team, Last updated: Sat, 20th Feb 2021, 12:31 PM IST
  • इंदौर शहर निगमायुक्त द्वारा निगम के अधिकारियों के साथ मीटिंग नाले में की गई. इस मीटिंग का मुख्य मकसद निगम के अधिकारियों को स्वच्छता पर काम करने का निर्देश देना और सफाई के मकसद को बढ़ावा देना था.
नगर निगम इंदौर (फाइल तस्वीर)

इंदौर शहर अपनी स्वच्छता के लिए काफी जाना जाता है. वहीं, हाल ही में इंदौर को लेकर एक और हैरान करने वाली बात सामने आई है, जिसमें बताया गया कि शहर में निगम की मीटिंग भी नाले में हुई. दरअसल, इंदौर नगर निगम के अफसरों के साथ निगमायुक्त ने बीते शुक्रवार को पंचकुइयां घाट में स्थित नाले में बैठकर दो घंटे तक चर्चा की. मीटिंग के बाद अफसरों ने वहां पोहा-जलेबी और आलू वड़े का नाश्ता भी किया. बता दें कि शहर की स्वच्छता को देखते हुए शहर से होकर इस गुजरने वाले नाले को सुखाया जा रहा है.

बता दें कि मीटिंग से पहले नाले को बीच के भाग से समतल किया गया, जिसके बाद वहां टेबल और कुर्सियां रखी गईं. वहीं, निगम की इस बैठक में निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने शहर की सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए अफसरों से बातचीत की, साथ ही उन्हें निर्देश भी दिये गए. बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब नाले में मीटिंग जैसे कार्यक्रम किये गए. इससे पहले नाले में क्रिकेट, फुटबॉल और बैडमिंटन जैसे खेल भी खेले गए थे.

शादी में घुस आए नाबालिग चोर, 15 लाख रुपये के जेवर लेकर हुए फरार

नाले में मीटिंग करने का मकसद स्वच्छता सर्वेक्षण को बढ़ावा देना था. नाले में हुए इस आयोजन के जरिए निगम ने यह बताने की कोशिश की कि नाले में बहने वाली गंदगी तो दूर हो रही है, अब नाले इस प्रकार के हो चुके हैं कि वहां पर कोई भी आयोजन किया जा सकता है. बता दें कि इंदौर शहर देश में स्वच्छता में पांचवीं बार नंबर वन बनने की तैयारी में जुटा हुआ है. निगम लगातार शहर के बीच से बह रहने नालों को सुखाने के काम में लगा हुआ है.

इंदौर-अमृतसर ट्रेन का संचालन 23 फरवरी से होगा शुरू, लॉकडाउन के दौरान था बंद

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें