इंदौर में इंजीनियरिंग के छात्र ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 12:15 PM IST
  • तिलक नगर थाना क्षेत्र के वसुंधरा अपार्टमेंट में रहने वाले 21 वर्षीय छात्र दीपक चौहान ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. एक पेज के सुसाइड नोट में छात्र ने मां और दोस्तों को जीवन भर सपोर्ट करने के लिए धन्यवाद किया
प्रतीकात्मक तस्वीर

इंदौर। इंदौर में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले द्वितीय वर्ष के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस दौरान छात्र ने एक पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है. घटना की जानकारी होते ही लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी, इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की. पुलिस घटना के विभिन्न पहलुओं की जांच पड़ताल कर रही है.

बता दें कि इंदौर शहर के तिलकनगर थाना क्षेत्र के वसुंधरा अपार्टमेंट में रहने वाले एक 23 वर्षीय छात्र दीपेश चौहान ने अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतक मूल रूप से उज्जैन का रहने वाला है. इंदौर में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है. मृतक सेकंड ईयर में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है.

इंदौर: माल्यार्पण करने पहुंचे बीजेपी कार्यकर्ता को कांग्रेसियों ने पीटा

परिजनों के मुताबिक मृतक दीपेश क्रोधी स्वभाव का है. रात में किसी बात को लेकर दीपेश की किसी से कहासुनी हो गई जिसके बाद उसने रात में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. फांसी लगाने से पहले मृतक ने एक पेज का सुसाइड नोट लिखा है. यह सुसाइड नोट उसने अंग्रेजी में लिखा है. मृतक ने सुसाइड नोट में अपनी मां और दोस्तों को जीवन भर सपोर्ट करने के लिए धन्यवाद किया है.

सुसाइड नोट सिर्फ तीन लाइन का ही है जिसमें उसने अपनी मां और दोस्तों को धन्यवाद देने के बाद खुद को ही अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए एमवाई हॉस्पिटल भिजवा दिया है. पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर रही है. हालांकि अभी तक पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लगा पाई है. पुलिस मृतक के कॉल डिटेल को खंगाल रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें